Yogi Adityanath government, tenure fulfilled, not promised, BJP, out of power, set to go, Akhilesh Yadav, SP, UP assembly elections

24

अखिलेश यादव ने कहा है कि बीजेपी सरकार का यूपी की सत्ता से बाहर होना तय है।

सपा प्रमुख पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी की सत्ता में काबिज BJP का 2022 के विधानसभा चुनाव में सत्ता से बाहर होना तय है. क्योंकि जनमत लगातार भाजपा के खिलाफ होता चला जा रहा है.

इटावा. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (SP-Akhilesh Yadav) ने कहा कि उत्तर प्रदेश की सत्ता में काबिज भारतीय जनता पार्टी (BJP) 2022 के विधानसभा चुनाव मे हर हाल में सत्ता से बेदखल हो जाएगी. क्योंकि जनमत लगातार भाजपा के खिलाफ होता चला जा रहा है. सैफई में पत्रकारों से संक्षिप्त बातचीत मे अखिलेश यादव ने कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में जनता भाजपा को सत्ता से बाहर करने जा रही है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह किसके चेहरे पर चुनाव लड़ रही है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) का कार्यकाल करीब-करीब पूरा होने जा रहा है, लेकिन इसके बावजूद वो अपना एक भी वायदा पूरा नही कर पाये है.

अखिलेश यादव ने कहा कि जनता भाजपा से यह जानना चाहती है कि पिछले संकल्प पत्र में उन्होंने जो वायदे किए थे उनको पूरा क्यों नहीं किया. उन्होंने कहा कि भाजपा को यह बताना होगा कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए क्या किया. किसानों, बेरोजगारों, शिक्षित युवाओं, नौकरी पेशा लोगों के लिए क्या किया. पूरे पांच साल समाज का हर वर्ग प्रताड़ित रहा. पेट्रोल डीजल महंगा हुआ है. भाजपा को बढ़ती हुई महंगाई पर जवाब देना चाहिए. पंचायत चुनाव पर चर्चा करते हुए उन्होने कहा कि पंचायत चुनाव में जनता ने भाजपा को पूरी तरह से नकार दिया है. भाजपा के सदस्य नहीं जीते जो हर किसी को पता है. इसके बावजूद भी ऐसा देखा जा रहा है जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए भाजपा चुनाव नहीं लड़ रही है. बल्कि जिलों के एसएसपी और डीएम खुद ही चुनाव लड़ रहे हैं.

अखिलेश यादव ने कहा कि किसानों की जैसी दुर्गति भाजपा सरकार के साढ़े चार सालों में हुई है वैसी पिछले पचास सालों में भी नहीं हुई थी. गेहूं खरीद की तारीख बढ़ाकर किसानों को धोखा देने का स्वांग रचा गया है. किसान को न फसल का दाम मिला है और नहीं मुआवजा मिला है, ऊपर से मंहगाई की मार ने उसकी कमर तोड़ दी है. गलत आंकड़े पेशकर भाजपा किसानों का हित चिंतक बनने का नाटक कर रही है पर अब सबको उसकी सच्चाई का पता चल गया है. प्रदेश और किसानों का भाजपा बहुत नुकसान कर चुकी है. भविष्य अंधकार में दिख रहा है. अब जनता को समाजवादियों से ही उम्मीद है.







Source link