निर्माणाधीन आंगनबाड़ी केन्द्रों के कार्य गुणवत्ता व समयबद्धता के साथ किया जाये पूरा:स्वाती सिंह

39

– बाल सेवा योजना सामान्य का व्यापक प्रचार-प्रसार कर ज्यादा से ज्यादा
पात्र लोगो को योजना से किया जाय लाभान्वित

भास्कर न्यूज़
लखनऊ।प्रदेश की बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार महिला कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वाती सिंह ने सोमवार को प्रयागराज के सर्किट हाउस में प्रयागराज, आजमगढ़, मिर्जापुर व वाराणसी मण्डलों के जिला कार्यक्रम अधिकारियों, उप मुख्य परिवीक्षा अधिकारियों एवं जिला प्रोबेशन अधिकारियों के साथ विभागीय समीक्षा बैठक की।स्वाती सिंह ने जिला कार्यक्रम अधिकारियों से उनके मण्डल में निर्मित व निर्माणाधीन आंगनबाड़ी केन्द्रों के बारे में विस्तृत जानकारी ली। कुछ मण्डलों में निर्माण की गति धीमी पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्य को गुणवत्ता व समयबद्धता के साथ पूरा कराये जाने के निर्देश दिये।

 

स्वाती सिंह ने कोविड काल में कार्यरत आंगनबाड़ी कार्यकत्री की कोविड से मृत्यु होने पर प्रशासन द्वारा दिए जाने वाली सहायता राशि के लाभ से उनके परिजनों को लाभान्वित कराये व यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।उन्होंने यह भी कहा कि  किसी भी आंगनबाड़ी कार्यकत्री का परिवार सरकार द्वारा पहुंचाये जा रहे लाभ से वंचित न रहने पाये। उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्रों में वितरित किये जाने वाले राशन का वितरण पात्रों को सही तरीके से हो रहा है या नहीं, इसका समय-समय पर मौके पर जाकर स्थलीय निरीक्षण भी किया जाये।उन्होंने निदेशक महिला कल्याण मनोज कुमार राय के साथ उप मुख्य परिवीक्षा अधिकारियों व जिला प्रोबेशन अधिकारियों के साथ विभागीय समीक्षा करते हुए विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की।

 

उन्होंने सर्वप्रथम बाल सेवा योजना सामान्य की प्रगति में सुधार लाने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा चलाये जा रहे इस कार्यक्रम के बारे में लोगो को जागरूक करें व इस योजना का ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार कराकर उनको योजना के लाभ से लाभान्वित किया जाए। यह योजना कोविड ही बल्कि किसी भी कारणवश अपने परिवारीजनों को खोने वाले अनाथ बच्चों के लिए है।उन्होंने मण्डल के सभी जिला प्रोबेशन अधिकारियों को हिदायत दी कि अपने विभाग से सम्बंधित सभी भवनों में साफ-सफाई, बिजली, पानी की व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त रखी जाए।