Uttarakhand: लापता 4 लोगों के डेढ़ साल बाद घर में मिले कंकाल, बेटी ने पति संग मिल मरवाया था मां बाप और बहनों को | Skeletons found in the house after one and half year of 4 missing people, daughter had got parents and sisters killed along with husband

35

आरोप है कि हीरालाल का मकान व अन्य जायदाद हड़पने की नीयत से नरेंद्र ने विजय गंगवार के साथ मिलकर उनकी डंडे से मारकर हत्या कर दी.

Bhasha | Updated on: 29 Aug 2020, 10:44:54 AM

लापता 4 लोगों के डेढ़ साल बाद घर में मिले कंकाल, ऐसे खुला हत्या का राज (Photo Credit: फाइल फोटो)

रूद्रपुर:

उत्तराखंड (Uttarakhand) के उधमसिंह नगर जिले में सामने आयी एक झकझोर देने वाली वारदात में एक साल से भी ज्यादा समय से लापता एक परिवार के चार सदस्यों के कंकाल शुक्रवार शाम को उनके अपने घर के अहाते से ही बरामद हुए. उधमसिंह नगर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिलीप सिंह कुंवर ने बताया कि ट्रांजिट कैंप थाना क्षेत्र की राजा कालोनी में एक घर में एक साल से दबाकर रखे गए हीरालाल, उनकी पत्नी और दो पुत्रियों के कंकाल बरामद हुए हैं.

यह भी पढ़ें: दिल्ली की जेल में उगाही करने वाले रैकेट का भंडाफोड़, 5 गिरफ्तार

उन्होंने कहा कि हीरालाल के दामाद नरेंद्र गंगवार ने अपने मित्र विजय गंगवार के साथ मिलकर कथित तौर पर 20 अप्रैल, 2019 की सुबह साढ़े पांच बजे चारों की हत्या कर दी थी और उनकी लाशें घर के अहाते में ही दफन कर दी थी. पुलिस अधिकारी ने बताया कि 60 वर्षीय हीरालाल ने 2015 में अपनी बड़ी बेटी लीलावती का विवाह उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के बिलासपुर के रहने वाले नरेंद्र से किया था और उसे घर जमाई बना लिया था.

यह भी पढ़ें: बच्ची के साथ दुष्कर्म, पुलिस पकड़ने पहुंची तो आरोपी ने चलाई गोली और…

आरोप है कि हीरालाल का मकान व अन्य जायदाद हड़पने की नीयत से नरेंद्र ने विजय गंगवार के साथ मिलकर उनकी डंडे से मारकर हत्या कर दी. इस षड्यंत्र में उसकी पत्नी लीलावती भी शामिल थी. डेढ़ साल तक तो इन हत्याओं का राज छुपा रहा, लेकिन 25 अगस्त को जब वह ससुर की जमीन-जायदाद अपने नाम कराने के लिए उनका मृत्यु प्रमाणपत्र बनवाने पहुंचा जो उसका राज खुल गया. पुलिस ने नरेंद्र, लीलावती और विजय गंगवार को गिरफ्तार कर लिया है.


Read full story

First Published : 29 Aug 2020, 10:44:54 AM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here