UP News: योगी सरकार ने 53.92 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद कर बनाया नया रिकार्ड, अब 22 जून तक किसान बेच सकेंगे फसल

19

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार करने वालों पर सख्ती के निर्देश दिए हैं. (File Photo)

Wheat Procurement in UP: उप्र सरकार मंगलवार तक 1216821 किसानों से 53.80 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद कर चुकी है. किसानों को भुगतान करने में भी उप्र की योगी सरकार पिछली सरकारों से काफी आगे है.

लखनऊ. यूपी की योगी सरकार (Yogi Government) ने गेहूं खरीद (Wheat Procurement) में अपना ही रिकार्ड तोड़ दिया है. प्रदेश के क्रय केन्‍द्रों से मंगलवार को 12 लाख से अधिक किसानों से 53.80 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की जा चुकी है, जबकि इससे पहले यूपी के इतिहास में सर्वाधिक 52.92 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई थी. सरकार की ओर से किसानों को 10626.91 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है. मु गेहूं खरीद कीतारीख बढ़ा कर 22 जून कर दी गई है.

यूपी के इतिहास में अब तक 2018-19 किसानों से सर्वाधिक 52.92 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई थी. लेकिन इस बार ने मंगलवार तक 53.80 लाख टन खरीद हो चुकी है. साथ ही किसानों को भुगतान करने में भी योगी सरकार पिछले सरकारों से काफी आगे है. मुख्‍यमंत्री ने 72 घंटों में शेष बचे किसानों के भुगतान करने का निर्देश दिया है.

अब 22 जून तक होगी गेहूं खरीद

यूपी में एक अप्रैल से गेहूं खरीद शुरू की गई है. गेहूं खरीद के लिए सरकार ने प्रदेश में 5612 क्रय केंद्र स्थापित किए गए हैं, जहां पर 15 जून तक गेहूं क्रय किया जाना था. मुख्‍यमंत्री ने सोमवार को किसानों का राहत देते हुए विभाग को निर्देश दिए हैं कि क्रय केन्‍द्रों से पहले की तरह किसानों से 22 जून तक गेहूं की खरीद जारी रखी जाए. इसके अलावा मुख्‍यमंत्री ने बरसात में भंडारण गोदाम एवं क्रय केंद्रों में गेहूं की सुरक्षा के पूरे इंतजाम किए जाने को कहा है. मंडियों में किसानों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए केन्द्रों पर ऑक्सीमीटर, इफ्रारेड थर्मामीटर व सेनीटाइजर की व्यवस्था की गई है. किसानों के प्रति सरकार की बेहतर नीतियों के जरिए ही किसानों को उनके खेत से 10 किमी के दायरे के भीतर ही अनाज खरीद की सुविधा योगी सरकार द्वारा दी जा रही है.







Source link