Uddhav Thackeray: उद्धव ने बीजेपी के साथ सुलह की बात से क‍िया इन्‍कार, कहा- BJP विधायकों के व्यवहार से हमारा सिर शर्म से झुक गया – uddhav denies talk of reconciliation with bjp

26

हाइलाइट्स:

  • महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शिवसेना और बीजेपी के साथ आने की संभावना को क‍िया खार‍िज
  • उद्धव ने हाल में संपन्न विधानमंडल के मॉनसून सत्र के दौरान विपक्षी दल के व्यवहार की भी आलोचना की
  • दो दिवसीय सत्र समाप्त होने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी सदस्यों के कृत्य लोकतंत्र की निशानी नहीं

मुंबई
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने मंगलवार को उन अफवाहों को खारिज कर दिया कि शिवसेना और बीजेपी फिर से एक साथ आ सकते हैं। उद्धव ने हाल में संपन्न विधानमंडल के मॉनसून सत्र के दौरान विपक्षी दल के व्यवहार की भी कड़े शब्‍दों में आलोचना की। दरअसल पिछले कुछ दिनों से राजनीतिक हलकों में कयास लगाए जा रहे थे कि उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाले शिवसेना और बीजेपी के बीच मेल-मिलाप की संभावना है, जिनकी राहें 2019 के विधानसभा चुनावों के बाद जुदा हो गई थीं।

उद्धव ठाकरे ने दोनों दलों (बीजेपी-श‍िवसेना) के एक बार फिर हाथ मिलाने के सवाल पर कहा क‍ि जब हम 30 सालों तक साथ थे तो जो कुछ नहीं हुआ वह अब क्या होगा। दो दिवसीय सत्र समाप्त होने के बाद मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी सदस्यों के कृत्य स्वस्थ लोकतंत्र की निशानी नहीं हैं। विधानसभा अध्यक्ष के कैब‍िन में पीठासीन अधिकारी भास्कर जाधव से कथित तौर पर दुर्व्यवहार करने के लिए बीजेपी के 12 विधायकों को सोमवार को एक साल के लिए विधानसभा से निलंबित कर दिया गया।

उद्धव ठाकरे ने पहले ही कहा था, ‘कोरोना एक राष्ट्रीय आपदा है’


बीजेपी व‍िधायकों पर बरसे उद्धव

ठाकरे ने कहा क‍ि बीजेपी को उस प्रस्ताव पर हंगामा करने की जरूरत क्या थी जिसमें केंद्र सरकार से राज्य के पिछड़ा वर्ग आयोग को 2011 की जनगणना का आंकड़ा मुहैया कराने के लिए कहा गया है ताकि ओबीसी की संख्या का पता चल सके…क्या हम कह सकते हैं कि ओबीसी से उसकी शत्रुता सामने आ गई। उन्होंने कहा कि बीजेपी विधायकों के व्यवहार से ‘हमारा सिर शर्म से झुक गया।’

Uddhav Thackeray

Source link