Tokyo Olympics: Chirag-Satwik Beat World Number Three Pairs, Praneeth Lost The First Match

19

Tokyo Olympics 2020: भारत के सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की पुरुष युगल जोड़ी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए ग्रुप ए में दुनिया की तीसरे नंबर की जोड़ी चीनी ताइपै के यांग ली और ची लिन वैंग को हराकर ओलंपिक बैडमिंटन प्रतियोगिता में शानदार शुरुआत की. लेकिन शनिवार को यहां पुरुष एकल में बी साई प्रणीत को हार झेलनी पड़ी.

दुनिया की दसवें नंबर की जोड़ी चिराग और सात्विक ने तीसरी वरीयता प्राप्त ली और वैंग को 21-16, 16-21 और 27- 25 से हराया. इस साल ली और वैंग ने योनेक्स थाईलैंड ओपन, टोयोटा थाईलैंड ओपन और विश्व टूर फाइनल्स जीते थे. हालांकि, पुरूष एकल वर्ग में भारत के 13वें नंबर के खिलाड़ी प्रणीत ओलंपिक में डेब्यू करते हुए अपने पहले ही मैच में इज़रायल के निचली रैंकिंग वाले मीशा जिल्बरमैन से सीधे गेम में हार गए.

प्रणीत को ग्रुप डी मुकाबले में दुनिया के 47वें नंबर के खिलाड़ी के खिलाफ 41 मिनट में 17-21 और 15-21 से हार झेलनी पड़ी. पिछले कुछ महीनों से डेनमार्क के कोच मथियास बो के मार्गदर्शन में ट्रेनिंग कर रहे सात्विक और चिराग ने बेहतर रणनीतिक खेल दिखाया और अहम लम्हों में धैर्य बरकरार रखते हुए एक घंटे और नौ मिनट चले मुकाबले में जीत दर्ज की. 

भारतीय जोड़ी को पांच मैच प्वाइंट मिले, लेकिन विश्व चैंपियनशिप 2018 की कांस्य पदक विजेता चीनी ताइपे की जोड़ी ने इन सभी को बचाते हुए खुद मैच प्वाइंट हासिल किया. चिराग और सात्विक ने धैर्य बरकरार रखते हुए मैच प्वाइंट बचाया और फिर गेम और मैच जीत लिया. 

सात्विक और चिराग अगले मुकाबले में रविवार को मार्कस फर्नाल्डी गिडियोन और केविन संजय सुकामुल्जो की इंडोनेशिया की दुनिया की नंबर एक जोड़ी से भिड़ेंगे. सात्विक और चिराग ने अच्छी शुरुआत करते हुए 7-2 की बढ़त बनाई और पहले गेम में ब्रेक के समय 11-7 से आगे थे. 

भारतीय जोड़ी ने इस बढ़त का कायम रखते हुए पहला गेम जीता. दूसरे गेम में ली और वैंग ने अधिकांश मौकों को भुनाया और 10-8 की बढ़त बनाई. ब्रेक के बाद चीनी ताइपे की जोड़ी ने बेहतर खेल दिखाते हुए गेम जीतकर मुकाबला 1-1 से बराबर कर दिया. 

निर्णायक गेम में भारतीय जोड़ी ने 2-0 से बढ़त बनाई, लेकिन चीनी ताइपे की जोड़ी ने बराबरी हासिल कर ली. इसके बाद 10-10 पर स्कोर बराबर था. ली और वैंग ने 17-14 की बढ़त बनाई, लेकिन इसके बाद नेट पर गल्तियां करते हुए भारतीय जोड़ी को 20-20 पर बराबरी हासिल करने का मौका दे दिया. 

इसके बाद दोनों जोड़ियों ने मैच प्वाइंट हासिल किए. दो बार शटल नेट पर टकराकर भारतीय जोड़ी की तरफ गिरी, जिससे चीनी ताइपे की जोड़ी ने स्कोर 24-24 और फिर मैच प्वाइंट हासिल किया. ली और वैंग हासिल मैच प्वाइंट को भुनाने में विफल रहे. भारतीय जोड़ी को इसके बाद मैच प्वाइंट मिला और विरोधियों की गलती का फायदा उठाकर चिराग और सात्विक ने जीत दर्ज की. 

इससे पूर्व पहले मुकाबले में हार के साथ प्रणीत की नॉकआउट में जगह बनाने की उम्मीदों को झटका लगा है. प्रणीत ने कहा, ‘‘पहले गेम में मैं दबाव में था. चीजें मेरे पक्ष में नहीं जा रही थीं और मैं कुछ नहीं कर पा रहा था. पहले गेम में मैंने शुरुआत में दबदबा बनाया, लेकिन इसके बाद चीजें मेरे हाथ से निकल गईं. मैं अपना शत प्रतिशत नहीं दे पाया, मैं कुछ भी सोच नहीं पाया. मुझे अगले मैच के लिए तैयार होना होगा.’’

विश्व चैंपियनशिप 2019 के कांस्य पदक विजेता और दुनिया के 15वें नंबर के खिलाड़ी प्रणीत का सामना अब दुनिया के 29वें नंबर के खिलाड़ी नीदरलैंड के मार्क काजोउ से होगा. पहले गेम में प्रणीत ने 8-4 की बढत बना ली थी, लेकिन जिल्बरमैन ने लगातार पांच अंक के साथ पासा पलट दिया.

प्रणीत ने कई सहज गलतियां भी की. जिल्बरमैन ने 15.13 की बढ़त बना ली जो जल्दी ही 19.14 की हो गई. इसके बाद प्रणीत वापसी नहीं कर पाए. रैलियों में भी प्रणीत उनसे काफी पीछे रहे और रफ्तार का सामना भी नहीं कर पाये. दूसरे गेम में भी जिल्बरमैन का दबदबा रहा और उन्होंने आठ मैच प्वाइंट के साथ स्मैश लगाकर मैच जीत लिया. 

Source link