Tokyo Olympics 2020: Lovlina Borgohain Is From Assam, Started Her Career With Kickboxing

46

Tokyo Olympics 2020: भारत की बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन आज 69 किग्रा वेल्टर वेट केटेगरी में इतिहास रचने से चूक गईं. लवलीना आज विश्व चैंपियन तुर्की की सुरमेनेली बुसेनज से 0-5 के अंतर से सेमीफाइनल का मुकाबला हार गई. हालांकि सेमीफाइनल में एंट्री के साथ ही लवलीना इस इवेंट में कम से कम कांस्य पदक तो पक्का कर ही चुकी थी और अब इसी पदक के साथ इस ओलंपिक में उनका ये शानदार अभियान समाप्त हो गया है. आइए जानते हैं बॉक्सिंग में कैसा रहा हैं अब तक लवलीना का सफर. 

लवलीना असम के गोलाघाट जिले के बड़ा मुखिया गांव की रहने वाली हैं. 23 वर्षीय लवलीना का जन्म 2 अक्टूबर 1997 को हुआ था. लवलीना के पिता टिकेन बोरगोहेन एक बिजनेसमैन हैं और मां ममोनी हाउस वाइफ हैं.

किक-बॉक्सिंग से की शुरुआत 

शुरुआत में लवलीना का रुझान किक-बॉक्सिंग की तरफ था. स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (SAI) के बॉक्सिंग ट्रायल के दौरान कोच पदुम बोरो की नजर लवलीना के खेल पर पड़ी, जिन्होंने 2012 में उन्हें कोचिंग देना शुरू किया था. बाद में उन्होंने भारत के मुख्य महिला बॉक्सिंग कोच शिव सिंह से सबक लेना शुरू किया. लवलीना ने 2012 से बॉक्सिंग की कोचिंग लेनी शुरू की. 

2018 में इंडिया ओपन में जीता स्वर्ण पदक

इसके बाद फरवरी 2018 में लवलीना ने इंडिया ओपन में स्वर्ण पदक जीत सबका ध्यान अपने खेल की ओर आकर्षित किया. इससे पहले नवंबर, 2017 में वियतनाम में एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप और जून, 2017 में अस्ताना में प्रेसिडेंट्स कप में भी उन्होंने कांस्य पदक जीता था.

2018 राष्ट्रमंडल खेलों के क्वार्टर फाइनल में लवलीना को अमेरिका की सैंडी रयान के हाथों हार का सामना करना पड़ा. इस हार के बाद उन्होंने अपनी फिटनेस के साथ साथ मेडिटेशन तकनीक का सहारा भी लिया. इस बदलाव का उन्हें फायदा भी मिला और उन्होंने साल 2018 के अंत में और इसके बाद 2019 में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में लगातार दो कांस्य पदक जीते. 

2020 में एशियाई ओलंपिक क्वालीफायर से किया ओलंपिक में स्थान पक्का 

लवलीना ने 2020 की शुरुआत में आयोजित एशियाई ओलंपिक क्वालीफायर के क्वार्टर फाइनल में उज़्बेकिस्तान की मफतुनाखोन मेलीवा को हराकर ओलंपिक में अपना स्थान पक्का कर लिया. हालंकि वो इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में चीन की गु होंग से हार गईं थी और उन्हें एक और कांस्य से संतोष करना पड़ा था. 

ओलंपिक में लवलीना का अब तक का सफर

  • 27 जुलाई – प्री-क्वार्टर फाइनल में जर्मनी की खिलाड़ी को 3-2 से हराया
  • 30 जुलाई – क्वार्टर फाइनल मुकाबले में चीनी ताइपे की खिलाड़ी को 4-1 से हराया

ओलंपिक में कैसा रहा हैं भारतीय बॉक्सरों का प्रदर्शन 

  • विकास कृष्णन – पहले ही मुकाबले में हारे
  • मैरी काम – प्री क्वार्टर फाइनल में हारीं
  • पूजा रानी – क्वार्टर फाइनल में हारीं
  • आशीष कुमार – पहले ही मुकाबले में हारे
  • सतीश कुमार – क्वार्टर फाइनल में हारे
  • अमित पंघाल – प्री क्वार्टर फाइनल में हारे
  • मनीष कौशिक – पहले ही मुकाबले में हारे
  • सिमरनजीत कौर – प्री क्वार्टर फाइनल में हारीं

यह भी पढ़ें 

IND Vs ENG: कप्तान विराट कोहली ने दिए संकेत, बतौर ऑलराउंडर Playing 11 में जगह बना सकता है यह खिलाड़ी

Tokyo Olympics 2020: आज सेमीफाइनल में भारतीय महिला हॉकी टीम का अर्जेंटीना से होगा मुकाबला, दुआओं का दौर जारी

Source link