शोरूम मालिक ने गाड़ी का बकाया न देने पर बीच सड़क दौड़ा दौड़ाकर राजगीर को पीटा

55

-एसओ निगोहा का हास्यास्पद बयान मामले की सुनवाई के लिये पुलिस के पास समय ही नहीं

भास्कर न्यूज

 निगोहा,लखनऊ। उधारी वसूलने को लेकर शनिवार शाम को कस्बे के एक शोरूम मालिक ने बाइक सवार राजगीर को निगोहा स्टेशन रोड पर दौड़ा-दौड़ाकर पीटा बीच बचाव करने पहुंचीं राजगीर की माँ की भी पिटाई कर दी।ग्रामीणों के हस्तक्षेप करने के बाद शोरूम मालिक के चंगुल से छूटे राजगीर ने पूरे मामले की शिकायत निगोहा थाने पर की वही पीड़ित का आरोप है कि निगोहा पुलिस शोरूम मालिक के प्रभाव में 24 घण्टे बीतने के बाद भी कोई कार्यवाही नही कर रही है।

 

निगोहा के दखिना शेखपुर गांव के रहने वाले राजगीर अभिषेक रावत ने बताया एक साल पहले निगोहा कस्बे के एक बजाज शोरूम से पल्सर बाइक खरीदी थी।कोरोना संकट से आई आर्थिक तंगी के चलते बकाया के पांच हजार देने में लेट हो गया था।पर बकाया धनराशि जल्द चुकता करने की बात कह रहा था।शनिवार शाम अभिषेक अपनी माँ सावित्री के साथ निगोहा कस्बे आया था।इसी बीच शोरूम मालिक ने आकर बीच सड़क पर उसे पीटना शुरू कर दिया।अभिषेक ने बताया कि शोरूम मालिक से इस काफी मिन्नतें की पर शोरूम मालिक ने एक न सुनी पिटाई देखकर उसकी माँ आई तो शोरूम मालिक ने उनकी भी पिटाई कर दी।

 

इस दौरान उधर से कुछ ग्रामीणों शोरूम मालिक से विरोध जताया तो तब जाकर वह शोरूम मालिक के चंगुल से छूटा इसके बाद भागकर निगोहा थाने पहुचकर पूरे मामले की शिकायत की लिखित शिकायत थाने पर दी।पर पुलिस ने मामले को दर्ज करना तो दूर मौके पर जाकर जांच पड़ताल करना उचित नही समझा और अगले दिन रविवार को बुलाया।

 

पीड़ित ने जब रविवार को थाने पर पहुचकर जांच करने वाले दरोगा को फोन किया तो दरोगा ने कहा मैं बाहर हू सिपाही से बात कर लो। सिपाही ने फोन पर सोमवार तक कार्यवाही की बात कहकर फोन काट दिया। इस मामले में जब निगोहां थाना प्रभारी जितेंद्र प्रताप सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा समय न मिलने के कारण वह अभी तक इस मामले को नहीं देख पाये हैं। उन्होंने कहा समय मिले तो कार्रवाई की जाये। सीओ नईमुल हसन ने बताया कि पूरे मामले की जांच कर कार्यवाही की जाएगी।