The bridge connecting Noida and Faridabad will now be ready in 2021 December dlnh

80

नोएडा और फरीदाबाद को जोड़ने वाले पुल का काम लेट हो चुका है. अब इसके इस साल दिसम्बर तक पूरा होने की उम्मीद है. Demo pic

इस पुल के बनने से 2 घंटे का सफर कुछ मिनटों में सिमटकर रह जाएगा. पुल (Fly Over) की आधारशिला अगस्त 2014 में रखी गई थी. पुल के निर्माण पर करीब 120 करोड़ रुपये खर्चा आ रहा है.

नोएडा. फरीदाबाद (Faridabad) और नोएडा को जोड़ने वाले पुल में एक बार फिर अड़ंगा आ गया है. मंझावली गांव के पास बनने वाला यह पुल इसी महीने बनकर तैयार होना था. लेकिन, अभी पूरे 24 किमी लम्बे पुल की बात तो छोड़िए 630 मीटर का यमुना (Yamuna) पर बनने वाला हिस्सा भी बनकर तैयार नहीं हुआ है. इस पुल से नोएडा (Noida) और फरीदाबाद के लाखों लोगों को बड़ी उम्मीद हैं. इस पुल के बनने से 2 घंटे का सफर कुछ मिनटों में सिमटकर रह जाएगा. गौरतलब रहे पुल (Fly Over) की आधारशिला अगस्त 2014 में रखी गई थी. पुल के निर्माण पर करीब 120 करोड़ रुपये खर्चा आ रहा है.

इसलिए लेट रहा रहा नोएडा-फरीदाबाद को जोड़ने वाला पुल

जानकारों की मानें तो कोरोना-लॉकडाउन के चलते तो पुल के बनने में देरी हुई ही है, लेकिन इसके अलावा सरकारी विभागों की अपनी लेटलतीफी के चलते भी दो राज्यों को आपस में जोड़ने में देरी हो रही है. सूत्रों की मानें तो माइनिंग विभाग से तमाम पत्राचार करने के बाद भी एनओसी की राहत आसान नहीं हुई.

दूसरी ओर पुल बनाने वाली कंपनी को भी वक्त से पेमेंट नहीं मिल रही है तो इसकी वजह से भी काम धीमा हो गया है. यमुना के पानी का रुख मोड़ने के दौरान गांव में पानी न घुसे इसके लिए मिट्टी डालकर रुकावट खड़ी करनी थी. लेकिन एनओसी में ही देरी हो गई है.भंगेल एलिवेटेड रोड का 94 फीसद काम पूरा, जल्द होगा चालू, सलारपुर पर जाम से मिलेगी मुक्ति

24 किमी की सड़क जोड़ेगी दोनों राज्यों को

नोएडा और ग्रेटर नोएडा को फरीदाबाद से जोड़ने वाली परियोजना के तहत सबसे पहले मंझावली से खेड़ी पुल की तरफ आने वाली सड़क की चौड़ाई को बढ़ाया जाएगा. वहीं मंझावली और चीरसी में बाईपास सड़क बनाई जाएगी. पुल को दोनों तरफ सड़क से जोड़ने के लिए कुल 24 किमी सड़क बनाई जानी है.

इसके तहत 19 किमी की सड़क हरियाणा और 5 किमी की सड़क यूपी के हिस्से में बनाई जाएगी. वहीं मंझावली में यमुना नदी के ऊपर बन रहे पुल की कुल लम्बाई 630 मीटर फोनलेन पुल बनाया जाना है. अभी तक जिन रास्तों का इस्तेमाल कर फरीदाबाद से नोएडा आने में 2 घंटे का वक्त लगता है, वहीं इस पुल के तैयार हो जाने से सिर्फ कुछ मिनट में यह दूरी पूरी हो जाएगी.







Source link