Team India Captain Virat Kohli Completes 12 Years In International Cricket Debuted Against Sri Lanka On 12th August 2008

57


भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने 12 साल पूरे कर लिए हैं. 19 साल की उम्र में कोहली ने 2008 में श्रीलंका के खिलाफ अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत की थी. इसके बाद से कोहली ने दर्जनों रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए हैं और क्रिकेट इतिहास के महानतम बल्लेबाजों में शामिल हो गए हैं. 31 साल के कोहली एक बार वर्ल्ड कप विजेता भी रह चुके हैं.

खराब रही थी करियर की शुरुआत

मौजूदा दौर में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज माने जाने वाले कोहली के करियर की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी. श्रीलंका के खिलाफ दाम्बुला में 12 साल पहले 18 अगस्त को खेले गए वनडे मैच में उनका डेब्यू हुआ था. इससे पहले कोहली की कप्तानी में उसी साल भारतीय अंडर-19 वर्ल्ड चैंपियन बनी थी.

सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग की चोट के कारण कोहली को अपना पहला मैच खेलने का मौका मिला था और उन्हें गौतम गंभीर के साथ ओपनिंग में उतारा गया था. हालांकि कोहली सिर्फ 12 रन ही बना सके. इसके बाद भी उन्हें सीनियर खिलाड़ियों के चोटिल होने पर थोड़े मौके मिले.

कोहली के 12 साल पूरे होने पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी ट्वीट कर टीम इंडिया के कप्तान को बधाई दी.

2010 के बाद दिखाया जलवा, लगाई रिकॉर्ड की झड़ी

कोहली ने 2010 में करीब एक साल बाद टीम इंडिया में वापसी की और उसके बाद से टीम का नियमित हिस्सा बन गए. 2010 में ही कोहली ने अपना पहला वनडे शतक जड़ा था. यहां से फिर कोहली ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और 2011 में वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम इंडिया का हिस्सा रहे.

2011 में ही कोहली ने टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया और इसके बाद से तो वह धीरे-धीरे तीनों ही फॉर्मेट में अपना जलवा दिखाने लगे और तीनों फॉर्मेट में नंबर 1 रैंकिंग भी हासिल कर चुके हैं.

फिलहाल कोहली के नाम सचिन तेंदुलकर के बाद वनडे में दूसरे सबसे ज्यादा 43 शतक हैं. साथ ही 11 हजार से ज्यादा रन भी वह बना चुके हैं. इतना ही नहीं टेस्ट क्रिकेट में भी कोहली ने 27 शतकों की मदद से 7 हजार से ज्यादा रन बना लिए हैं, जिनमें 7 दोहरे शतक भी शामिल हैं. वहीं टी20 इंटरनेशनल में इस वक्त वह सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं.

2015 में संभाली कप्तानी, टेस्ट में बनाया नंबर 1

कोहली इस दौरान 2015 की शुरुआत में टेस्ट टीम और फिर 2017 की शुरुआत में वनडे-टी20 टीम के कप्तान बने. बीते 5 सालों में कोहली ने टेस्ट क्रिकेट में भारत को न सिर्फ नंबर एक टीम बनाया बल्कि भारत के भी सबसे सफल कप्तान बन गए.

कोहली ने अपने अबतक के करियर में आईपीएल में भी अपना जलवा दिखाया है. आईपीएल में 5 शतकों के साथ लगभग 5,412 रन बनाकर वह नंबर एक बल्लेबाज हैं. हालांकि अबतक वह एक बार भी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को खिताब नहीं जिता सके हैं.

ये भी पढ़ें

IPL 2020: धोनी को मिस कर रही हैं बेटी जीवा, इंस्टाग्राम पर तस्वीर शेयर कर लिखी ये बात

धोनी के संन्यास के लिए चहल ने बताया कोरोना को वजह, कहा- अभी और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल सकते थे





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here