मस्तेमऊ गांव के जंगल में मिली लाश का सिर भी बरामद नहीं कर सकी सुशांत पुलिस

93

-सिर काट कर उठा ले गए थे हत्यारे

राजीव दीक्षित/भास्कर न्यूज
गोसाईंगंज, लखनऊ। सुशांत गोल्फ सिटी कोतवाली क्षेत्र के मस्तेमऊ गांव के जंगल में सिर विहीन युवक का शव मिलने के मामले में पुलिस हवा में हाथ पैर चला रही है। दूसरे दिन भी न तो शव का सिर मिला न ही कोई ठोस जानकारी। मस्तेमऊ के जंगल में पुलिस को सिरकटी लाश मिली थी। सूचना पर एडीसीपी पूर्णेंदु सिंह और एसीपी स्वाति चौधरी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे थे। पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है। लेकिन 24 घण्टे से ज्यादा समय बीतने के बाद भी
शव की पहचान नहीं हो सकी है।

सुशांत गोल्फ सिटी कोतवाली क्षेत्र के मस्तेमऊ गांव के पास बबूल के घने जंगल हैं, जिसमे अक्सर कोई नहीं जाता, गुरुवार को गांव के कुछ लोग बकरी और जानवर चराने जंगल में गए थे। इसी जंगल में सड़क से करीब 25 मीटर की दूरी पर शव मिला। शव देखते ही डरकर वहां से भाग निकले और गांव वालों को सूचना दी। यह खबर फैलते ही मौके पर भीड़ जुट गई।

 

इंस्पेक्टर सुशांत गोल्फ सिटी विजयेंद्र सिंह ने बताया कि शव पर सिर्फ अंडरवियर थी,शव की हालत देखकर लगता है कि हत्या करीब 3 से 4 दिन पहले की गई, और हत्यारे सिर काट कर उठा ले गए।

 

सिर कटी लाश के शरीर के कई हिस्सों को जंगली जानवरों ने नोंचकर खा लिया और इलाके की पुलिस को खबर नहीं हुई। शव के बाएं हाथ पर मोर का चित्र बना हुआ है। पुलिस ने आसपास के थानों में दर्ज गुमशुदगी का ब्यौरा मंगाया है।
शव बरामद होने की जगह से करीब 100 मीटर दूर बेल्ट और जूते मिले थे। फिलहाल अभी तक इस मामले में सुशांत गोल्फ सिटी थाने के इंस्पेक्टर को सिर्फ निराशा ही हाथ लगी है। उनका नेटवर्क अभी तक फेल नजर आ रहा है।