Steven Smith On Australia Captaincy: If The Opportunity Did Come Up Again I Would Be Keen Deatails Inside | स्टीव स्मिथ का बड़ा बयान आया सामने, बोले

69

ऑस्ट्रेलियाई टीम के धाकड़ बल्लेबाज स्टीव स्मिथ अपनी शानदार बल्लेबाजी के लिये जाने जाते हैं. पिछले कुछ वक्त से उन्हें दोबारा ऑस्ट्रेलियाई टीम की कमान सौंपी जाने की बात उठती रहती है. इस बार स्मिथ का कप्तानी को लेकर बड़ा बयान सामने आया है. ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज स्टीव स्मिथ का कहना है कि अगर उन्हें मौका दिया जाता है तो वह एक बार फिर टीम की कमान संभालने के लिए तैयार हैं. स्मिथ पहले ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान थे लेकिन मार्च 2018 में कैप टाउन टेस्ट में सैंडपेपर गेड स्केंडल के बाद उन्हें निलंबित कर दिया था.

स्मिथ ने न्यूज कॉर्प से कहा, “मैं इस बारे में काफी समय से सोच रहा हूं और मैं इस नतीजे पर पहुंचा हूं कि अगर मुझे मौका मिलता है तो मैं एक बार फिर कप्तानी करना चाहूंगा. चाहे यह क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया चाहता हो या जो भी टीम के लिए बेस्ट हो, मैं इसमें अब दिलचस्पी रखता हूं.”

उन्होंने कहा, “मैं इस चीज को हमेशा केपटाउन में जाकर सोचता हूं, भले ही कप्तानी कर पाऊं या नहीं लेकिन यह हमेशा मेरे साथ रहता है. मैं उस दौर से गुजरा हूं और पिछले कुछ वर्षो में मैंने काफी सीख ली है.”

कैप टाउन स्कैंडल के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ पर 12 महीनों के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया था और साथ ही कप्तान पद से भी हटाया था. वह हालांकि ऑस्ट्रेलिया टीम में वापस आ गए लेकिन उन्हें अभी तक कप्तानी नहीं मिली है.

स्मिथ के अलावा डेविड वार्नर और कैमरून बैनक्रोफ्ट को भी निलंबित किया था. यह दोनों खिलाड़ी सैंडपेपर के द्वारा गेंद से छेड़छाड़ करते पाए गए थे. स्मिथ ने कहा, “मुझे लगता है कि अगर यह सब नहीं होता तो मैं अच्छी जगह होता. मैंने हालांकि टिम पेन और आरोन फिंच का उसी तरह समर्थन किया है.”

ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान पेन 36 वर्ष के हैं और सीमित ओवर के कप्तान फिंच 34 वर्ष के हैं. उम्र के कारण उनकी कप्तानी करने पर सवाल उठ रहे हैं. स्मिथ ने कहा, “मुझे हमेशा ऐसा नहीं लगा कि मैं कप्तानी दोबारा कर सकता हूं. ऐसा पिछले कुछ समय से दिमाग में आया है.”

Source link