Southampton Weather Update, India Vs New Zealand World Test Championship Final

30

Southampton Weather Update: इंग्लैंड के साउथैंप्टन शहर में भारत और न्यूजीलैंड के बीच आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच खेला जा रहा है. पहले दो दिन के खेल का मजा बारिश और खराब लाइट की वजह से किरकिरा हुआ है. तीसरे दिन हालांकि फैंस के लिए अच्छी खबर है. मौसम विभाग की जानकारी के मुताबिक आज साउथैंप्टन में पूरा दिन मौसम बिल्कुल साफ रहेगा और बारिश होने की कोई संभावना नहीं है.

गुरुवार से ही साउथैंप्टन में लगातार बारिश हो रही थी. शुक्रवार को डब्लूटीसी फाइनल का आगाज हुआ. लेकिन मैच का पहला दिन बारिश से बुरी तरह से प्रभावित हुआ. शुक्रवार को एक भी गेंद फेंके बिना ही दिन के के खेल को रद्द कर दिया गया था. शनिवार को भी हालांकि फैंस को मैच के समय पर शुरू होने पर थोड़ी राहत जरूर मिली.

लेकिन पहले सेशन के बाद मौसम ने एक बार फिर से मैच में रुकावट पैदा की. आसमान में घने बादल छा जाने की वजह से मैदान पर रोशनी बेहद कम हो गई थी. खराब लाइट की वजह से तीन बार मैच में ब्रेक लिया गया. आखिरकार अंपायर्स 64.4 ओवर्स के बाद ही दूसरे दिन का खेल समाप्त होने की घोषणा कर दी.

रविवार को हालांकि साउथैंप्टन में ना सिर्फ मौसम साफ रहेगा बल्कि अच्छी धूप निकलने का अनुमान भी लगाया गया है. उम्मीद है कि मैच के तीसरे दिन फैंस को 98 ओवर का खेल देखने को मिल सकता है. पहले दिन खराब मौसम की वजह से जो ओवर्स बर्बाद हुए हैं उनकी भरपाई रिजर्व डे पर करने की कोशिश की जाएगी.

भारत की अच्छी शुरुआत

न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाया. रोहित शर्मा और शुभमन गिल की जोड़ी ने भारत को अच्छी शुरुआत दिलाई और पहले विकेट के लिए 62 रन जोड़े. भारतीय ओपनर्स हालांकि अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में नहीं बदल पाए. रोहित 34 और गिल 28 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. पुजारा ने 8 रन बनाए.

88 रन पर तीन विकेट गिरने के बाद इंडिया मुश्किल में नज़र आ रहा था. लेकिन कप्तान विराट कोहली ने 44 रन की नाबाद पारी खेलकर इंडिया की पारी को संभाल लिया है. रहाणे 29 रन बनाकर कोहली का अच्छा साथ दे रहे हैं. दिन का खेल खत्म होने पर इंडिया का स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 146 रन रहा. न्यूजीलैंड की ओर से जेमीसन, वैगनर और बोल्ट को 1-1 विकेट मिला.

Tokyo Olympic 2020: जापान में भारतीय दल के लिए कड़े नियम, आईओए ने बताया भेदभावपूर्ण

Source link