Six sharp shooters including 4 juveniles of wanted criminal Kala Jathedi gang held in Delhi

75

दिल्ली पुलिस ने कई राज्यों में मोस्ट वॉन्टेड गैंगस्टर काला जठेड़ी गैंग  (Kala Jathedi) के छह सदस्यों को पकड़ा है। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। पुलिस के अनुसार, दो आरोपियों की पहचान हरियाणा के झज्जर निवासी मंजीत (22) और हरियाणा के रोहतक निवासी मोहित गिल (24) के तौर पर हुई है। बाकी चार नाबालिग हैं।

पुलिस ने बताया कि 20 मई को सूचना मिली थी कि बवाना इलाके में मोहित लांबा नामक व्यक्ति गोली लगने से जख्मी हो गया है। पुलिस ने उसे एमवी अस्पताल पहुंचाया। लांबा कुतुबगढ़ गांव का निवासी है।

लांबा ने बताया कि निखिल ने उसे कटेवरा नहर पर बुलाया था। लांबा जब वहां पहुंचा तो निखिल वहां पांच लोगों के साथ मौजूद था और उसने गोली चला दी। किसी तरह वहां से भागकर लांबा ने अपनी जान बचाई।

गैंगस्टर काला जठेड़ी पर कसा शिकंजा, दिल्ली पुलिस ने लगाया मकोका 

जांच के दौरान पता चला कि प्रिंस नामक व्यक्ति ने नाबालिग आरोपियों को कुतुबगढ़ के पास अपनी मोटरसाइकिल दी थी। प्रिंस ने बताया कि उसे काला जठेड़ी के साथी प्रियव्रत ने हत्या में नाबालिगों की मदद करने को कहा था।

पुलिस उपायुक्त (बाहरी उत्तरी दिल्ली) रंजन सिंह ने बताया कि गुप्त सूचना के बाद पुलिस ने बवाना इलाके में मामले में संलिप्त छह लोगों को पकड़ा। आरोपी मोहित गिल ने बदमाशों को कारतूस और हथियार मुहैया कराए थे। बदमाशों के पास से छह पिस्तौल, 33 कारतूस और एक मोटरसाइकिल बरामद की गई। 

गौरतलब है कि एक दिन पहले ही दिल्ली पुलिस ने गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी के खिलाफ सख्त महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण अधिनियम (मकोका) लगाया था। अलग-अलग राज्यों में उस पर करीब 7 लाख रुपये का इनाम घोषित है। पुलिस ने कहा था कि फरवरी 2020 में हरियाणा पुलिस की हिरासत से फरार होने के बाद जठेड़ी दिल्ली-एनसीआर और उससे लगे राज्यों में अपना जाल फैला रहा है। उन्होंने कहा कि संदेह है कि गैंगस्टर देश छोड़कर चला गया है। पुलिस के मुताबिक जठेड़ी गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का करीबी सहयोगी है और उसके गैंग के सदस्य विभिन्न राज्यों में कई संगीन अपराधों में शामिल हैं।

 



Source link