Shiv Sena Congress Rift: Uddhav Thackeray attack on Nana Patole statement : उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले पर साधा निशाना

40

हाइलाइट्स:

  • महाराष्ट्र में शिवसेना और कांग्रेस के बीच तकरार बढ़ती जा रही है
  • शिवसेना स्थापना दिवस पर उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस पर किया हमला
  • पटोले के अकेले लड़ने वाले बयान पर कहा- तो लोग जूतों से मारेंगे
  • हिंदुत्व और मराठी अस्मिता को बताया पार्टी की पहली प्राथामिकता

मुंबई
महाराष्ट्र में शिवसेना और कांग्रेस के बीच दरार (Maha Vikas Aghadi Govt) चौड़ी होती दिख रही है। शिवसेना ने अपने 55वें स्थापना दिवस (Shiv Sena Founder Day) पर हिंदुत्व और मराठी अस्मिता की बात की। इस दौरान मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कांग्रेस पर इशारों में तीखा हमला किया। उद्धव ने कहा कि अगर कोई अकेले लड़ने की बात करेगा तो लोग जूतों से मारेंगे। बताते चलें कि हाल ही में महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले (Nana Patole Statement) ने अगले सभी चुनाव अकेले लड़ने की बात कही थी।

‘तो लोग जूतों से मारेंगे…’
कांग्रेस के अपने दम पर चुनाव लड़ने के मुद्दे पर ठाकरे ने कहा कि कुछ लोग अपने बल पर चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं। कोरोना काल में हृदयविदारक स्थिति है। लोगों का रोजगार गया, रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है। ऐसे में अगर कोई अकेले लड़ने की बात करेगा, तो लोग जूतों से मारेंगे।

नाना पटोले बोले-आलाकमान ने मौका दिया तो बनूंगा CM

Uddhav Praises Mamta: उद्धव ठाकरे ने की ममता बनर्जी की तारीफ- ‘अपने दम पर जीता चुनाव, बताया बंगाली गौरव के लिए क्‍या करना चाहिए’
हिंदुत्व-मराठी अस्मिता प्राथमिकता’
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शिवसेना स्थापना दिवस पर अपने संबोधन में हिंदुत्व और मराठी अस्मिता को पार्टी की पहली प्राथमिकता बताया है। उन्होंने सत्ता में सहयोगी कांग्रेस और विरोधी दल बीजेपी पर निशाना साधा। उद्धव यह भी कहने से नहीं चूके कि वह सत्ता पर बने रहने के लिए कतई लाचार नहीं हैं। ठाकरे ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की जमकर सराहना की। इस मौके पर उन्होंने विशेष रूप से बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तारीफ की।

शिवसेना-एनसीपी हैं साथ-साथ, मिलकर लड़ेंगे चुनाव
‘हिंदुत्व किसी का पेटेंट नहीं’
शनिवार को शिवसेना के स्थापना दिवस पर सोशल मीडिया के माध्यम से मुख्यमंत्री ने शिवसैनिकों को संबोधित किया। उन्होंने कहा, ‘हिंदुत्व किसी का पेटेंट नहीं है। हिंदुत्व हमारी सांस है, इसलिए शिवसैनिक पहले जय हिंद और उसके बाद जय महाराष्ट्र का नारा लगाते हैं। देवेंद्र फडणवीस का नाम लिए बिना उन्होंने कहा, ‘महाविकास अघाडी बनने के बाद कुछ लोगों के पेट में दर्द हो रहा है, लेकिन मैं डॉक्टर नहीं हूं। उन्हें वक्त आने पर राजनीतिक दवा दूंगा। सत्ता न मिलने पर कई लोग छटपटा रहे हैं। हमसे पूछा जा रहा है कि एक साल में क्या किया, तो मैं उनसे कहना चाहूंगा कि वे काम देख लें।’

Maharashtra Politics: राम के नाम पर भिड़ी बीजेपी-शिवसेना, जमकर चले लात मुक्के
‘डर गया, तो कैसा शिवसैनिक’
मुख्यमंत्री ने कहा कि जब शिवसेना पर संकीर्णता और प्रांतवाद का आरोप लगाया गया, तब भी शिवसेना प्रमुख आगे बढ़े। जो मुसीबत से डर जाए, तो वह शिवसैनिक कैसा? हमें संकट को उसकी छाती पर चढ़कर मात देना सिखाया गया है।

UDDHAV NANA PATOLE

उद्धव ठाकरे और नाना पटोले (फाइल फोटो)

Source link