Shankhnaad Movement In Maharashtra: मंदिर खोलने के लिए आज होगा ‘शंखनाद आंदोलन’, धार्मिक संगठन उतरेंगे मैदान में – today will be shankhnaad movement to open temple in maharashtra

46

हाइलाइट्स:

  • कोरोना वायरस की वजह से देशभर में कई राज्यों में अब भी मंदिर और धार्मिक स्थल नहीं खोले जा रहे हैं
  • हालांकि, जहां महामारी के मामले कम हैं वहां सुरक्षा की बातों को ध्यान में रखते हुए खोलने की अनुमति है
  • महाराष्ट्र उन राज्यों में शामिल है, जहां धार्मिक स्थलों को पब्लिक के लिए खोलने की अनुमति नहीं है

मुंबई
राज्य में मंदिरों को खोलने की मांग को लेकर शनिवार को विविध धार्मिक संगठन मैदान में उतरेंगे। उनका समर्थन बीजेपी ने किया है। महाराष्ट्र बीजेपी के मुख्य प्रवक्ता केशव उपाध्ये ने बताया कि आंदोलन को बीजेपी का पूर्ण समर्थन है। उस दिन बीजेपी के कार्यकर्ता और पदाधिकारी मंदिर के सामने खड़े होकर शंखनाद करेंगे।

राज्य में धार्मिक स्थलों को खोलने की मांग को लेकर महाराष्ट्र की आघाडी सरकार पर लगातार दबाव बनाया जा रहा है। अलग-अलग धार्मिक संगठन सरकार से मांग कर रहे हैं कि धार्मिक स्थल फिर से खोले जाएं, मगर सरकार ऐसा नहीं कर रही है। सरकार को डर है कि कोरोना का दौर फिर से न शुरू हो जाए। सरकार की इस भूमिका के खिलाफ राज्य के विविध संगठन मैदान में उतर रहे हैं। वे लोग शनिवार 29 अगस्त को शंखनाद आंदोलन करने जा रहे हैं। उस आंदोलन को बीजेपी ने समर्थन देने की घोषणा की है।

महाराष्ट्र बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील का कहना है कि दूसरे कई राज्यों ने मंदिर खोल दिए हैं, लेकिन महाराष्ट्र की महाआघाडी सरकार ने मंदिर नहीं खोले हैं, इसलिए राज्य के कई सारे धार्मिक संगठन शंखनाद आंदोलन करने जा रहे हैं। आंदोलन में बीजेपी के कार्यकर्ता पूरी तरह से सक्रिय रहेंगे। पाटील ने कहा कि इस आंदोलन में बीजेपी के कार्यकर्ता व पदाधिकारी फेस-मास्क लगाकर और फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए शामिल होंगे।

पाटील ने साफ किया कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए जो नियम-कानून बनाया गया है, उसका हमारे कार्यकर्ता व पदाधिकारी पूरी तरह से पाल करेंगे। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र सरकार ने मंदिरों को शुरू करने के संबंध में परिपत्र जारी किया है व देशभर के प्रमुख मंदिर शुरू भी हो गए हैं। हम लोगों की मांग है कि सभी नियमों का पालन करते हुए मंदिर और भजन, पूजन, कीर्तन शुरू करने की अनुमति दी जाए।

ठाणे में भी आंदोलनकारी सक्रिय
राज्य के मंदिरों, गुरुद्वारे, जैन मंदिरों सहित अन्य धार्मिक स्थलों को खोलने की मांग को लेकर ठाणे शहर बीजेपी शनिवार सुबह 11 बजे शहर के ग्यारह स्थानों पर घंटानाद आंदोलन करेगी। आयोजक शहर अध्यक्ष, विधायक निरंजन डावखरे के मुताबिक ‘दार उघड -उद्धवा दार उघड’ आंदोलन में राज्य सरकार को जगाने और धार्मिक स्थलों को तुरंत खोलने को लेकर मांग की जाएगी।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here