Sagar Rana murder case: Wrestler Sushil Kumar judicial custody extended till June 25 by delhi court

69

दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर राणा की हत्या मामले में रोहिणी कोर्ट ने मुख्य आरोपी ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार की न्यायिक हिरासत 25 जून तक के लिए बढ़ा दी है। 

सुशील कुमार को नौ दिन की न्यायिक हिरासत के बाद शुक्रवार को रोहिणी कोर्ट में मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट रीतिका जैन के समक्ष पेश किया गया। सुशील पर हत्या, गैर इरादतन हत्या और अपहरण के आरोप हैं।

पुलिस ने अदालत में सुशील कुमार पर हत्या का मुख्य आरोपी और मास्टरमाइंड होने का आरोप लगाते हुए कहा कि उसके पास पुख्ता इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस हैं जिनमें सुशील और उनके सहयोगियों को सागर की पिटाई करते देखा जा सकता है।

हत्या के मामले में मुख्य संदिग्ध 38 वर्षीय पहलवान सुशील कुमार और उसके सहयोगी अजय बक्करवाला को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की एक टीम ने 23 मई को दिल्ली के मुंडका इलाके से गिरफ्तार किया था। दोनों आरोपी चार मई को देर रात हुई घटना के बाद से फरार थे। पहलवान सुशील पर पुलिस ने एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था, जबकि अजय पर 50 हजार का इनाम था। 

इस हत्याकांड में सुशील कुमार और उनके साथी अजय बक्करवाला, प्रिंस, भूपेंद्र, मोहित, गुलाब, मंजीत, रोहित करोर, विजेंदर उर्फ ​​बिंदर और अनिरुद्ध समेत कुल 10 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।  

बता दें कि, सुशील देश के लिए लगातार दो ओलंपिक पदक जीतने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं। सुशील ने 2008 के बीजिंग ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल और 2012 के लंदन ओलंपिक में सिलवर मेडल जीता था। वह 2010 में विश्व चैंपियन भी रहे हैं। राष्ट्रमंडल खेल 2010, 2014 और 2018 में उन्होंने लगातार तीन गोल्ड मेडल जीते हैं। 

गौरतलब है कि दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में चार मई की रात दिल्ली के मॉडल टॉउन थाना क्षेत्र से पहलवान सुशील और उसके साथियों ने कथित तौर पर एक फ्लैट से 23 वर्षीय पहलवान सागर राणा और उसके दोस्तों का अपहरण कर लिया था और फिर छत्रसाल स्टेडियम में ले जाकर उनकी बेरहमी से पिटाई की थी। इसमें सागर बुरी तरह घायल हो गया था और इलाज के दौरान सागर की मौत हो गई थी। सुशील कुमार को 23 मई को गिरफ्तार किया गया था और दो जून को नौ दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच छत्रसाल स्टेडियम में हुए विवाद से संबंधित मामले की जांच कर रही है। 

वारदात के बाद पुलिस को स्टेडियम का एक सीसीटीवी फुटेज भी हाथ लगा था। सीसीटीवी फुटेज में सुशील 20-25 पहलवानों और असौदा गिरोह के बदमाशों के साथ सागर और दो अन्य को पीटते दिख रहे हैं। वीडियो में सभी लोग सागर को लात-घूंसों, डंडों, बैट व हॉकी से मारते दिख रहे हैं। फुटेज में सुशील सागर व दो अन्य पीड़ितों पर हॉकी चलाते भी दिखे। सभी पहलवान और बदमाश स्टेडियम के सीसीटीवी कैमरे में कैद हैं।  



Source link