Ravi Kumar Dahiya Created History By Winning Silver Medal In Tokyo Olympics Wrestling

97

Tokyo Olympics Wrestling: भारतीय पहलवान रवि कुमार बुधवार यहां कुश्ती स्पर्धा के पुरूषों की फ्रीस्टाइल 57 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में कजाखस्तान के सानायेव नूरीस्लाम को हराकर टोक्यो ओलंपिक के फाइनल में पहुंचे. उन्होंने कम से कम देश के लिए सिल्वर मेडल पक्का कर लिया है. उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए प्रतिद्वंदी पहलवान को हरा दिया. रवि कुमार दहिया की जीत के बाद हरियाणा के सोनीपत में उनके परिवार के सभी सदस्य और ग्रामीण खुशी से झूम उठे. गांव में जश्न का माहौल है और लोग उनके परिवार वालों को बधाई दे रहे हैं.

रवि कुमार दहिया ने सेमीफाइनल मुकाबले में कजाखस्तान के नूरइस्लाम सनायेव को हराकर फाइनल में प्रवेश करने के साथ ही भारत के लिए एक और पदक पक्का कर लिया है. रवि ने सेमीफाइनल मुकाबले में नूरइस्लाम को फॉल के माध्यम से 7-9 से हराया. रवि 7-9 से पिछड़ रहे थे लेकिन नूरिस्लाम चोट के कारण आगे खेल जारी नहीं रख सके और इस तरह भारतीय रेसलर रवि ने फाइनल में जगह बना ली. दहिया ने इससे पहले दोनों मुकाबले तकनीकी दक्षता के आधार पर जीते थे. 

रवि ने इसके साथ ही टोक्यो ओलंपिक में देश का चौथा पदक पक्का कर लिया है. फाइनल में पहुंचने पर उन्हें अब कम से कम सिल्वर मेडल मिलेगा. हालांकि उनकी नजरें स्वर्ण पदक लाने पर होगी. रवि ने टोक्यो में अपनी शुरूआती बेहतरीन तरीके से की। रवि ने ओपनिंग बाउट में कोलंबिया के ऑस्कर टाइगरेरोस को 13-2 से हराया था। उन्होंने यह बाउट टेकनीकल सुपेरिओरिटी के द्वारा जीती. इसके बाद उन्होंने 1/4 फाइनल मुकाबले में बुल्गारिया के गिओरजी वांगेलोव को 14-4 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई थी. इससे पहले सुशील कुमार ने 2012 लंदन ओलंपिक में फाइनल में जगह बनाकर रजत पदक जीता था.

यह भी पढ़ेंः India vs Argentina, Women’s Hockey LIVE: भारतीय महिला हॉकी टीम ने सेमीफाइनल मैच में 1-0 की बढ़त बनाई

Source link