Rashid Khan के माता-पिता बनाना चाहते थे उन्हें डॉक्टर, बेटा बना दुनिया का सबसे घातक स्पिनर

72

<p style="text-align: justify;">अफगानिस्तान के स्टार स्पिनर राशिद खान को दुनिया के सबसे बेहतरीन स्पिनर में से एक माना जाता है. कलाई के स्पिनर राशिद खान ने हाल ही में एक साक्षात्कार में खुलासा किया और कहा कि कैसे उन्हें क्रिकेट को एक पेशे के रूप में अपनाने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ी, जहां उनका परिवार उन्हें डॉक्टर बनाना चाहता था. उन्होंने कहा कि चूंकि उनके परिवार में कोई भी डॉक्टर नहीं है, इसलिए उनके माता-पिता चाहते थे कि वह डॉक्टर बनें. जिस कारण उन्हें कभी क्रिकेट खेलने की भी अनुमति नहीं दी गई.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>मैं पढ़ाई में भी काफी अच्छा था: राशिद खान</strong><br />राशिद खान ने पाकिस्तान के पत्रकार सवेरा पाशा के साथ एक साक्षात्कार में बताया कि मुझे क्रिकेट खेलने की अनुमति नहीं थी. हमारे परिवार में कोई डॉक्टर नहीं था इसलिए मेरे माता-पिता चाहते थे कि मैं डॉक्टर बनूं. क्रिकेट मेरी शुरुआती प्लानिंग में नहीं था और मुझे इसके लिए काफी संघर्ष करना पड़ा. मैं पढ़ाई में भी बहुत अच्छा था और मैं बिना किसी को बताए मैच खेलने के लिए जाता था.</p>
<p style="text-align: justify;">उन्होंने बताया कि वह क्रिकेट में अपनी स्किल को बढ़ाने के लिये किसी क्लब या एकेडमी में ट्रेनिंग के लिये नहीं गये. उनका मानना ​​​​है कि यह उनका स्वाभाविक गेम है जिसने उन्हें अपने करियर में अच्छा प्रदर्शन करने में मदद की है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">खान ने आगे कहा कि मैं कभी भी किसी क्रिकेट एकेडमी या क्लब में नहीं गया. मेरे दोस्त मुझे मैचों में ले जाते थे और मैं बल्ले और गेंद दोनों से नियमित रूप से प्रदर्शन करता था. जहां तक ​​मेरे शुरुआती प्रशिक्षण का सवाल है, मैं कभी किसी क्लब या एकेडमी में नहीं गया और मुझे कोई कोचिंग भी नहीं मिली. मैं पूरी तरह से स्वाभाविक था और इसने मुझे एक खिलाड़ी के रूप में आगे बढ़ने में मदद की. राशिद आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद टीम का हिस्सा हैं. वह लगातार अपनी फ्रेंचाइजी के लिये अच्छा प्रदर्शन करते आ रहे हैं. साथ ही वह अफगानिस्तान की इंटरनेशनल टीम का प्रमुख हिस्सा हैं.&nbsp;</p>

Source link