PV Sindhu Loses Against Tai Tzu-Ying Of Chinese Taipei In Tokyo Olympics Badminton Semi-final

22

Tokyo Olympics 2021: भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु का महिला एकल के सेमीफाइनल में शनिवार को यहां विश्व की नंबर एक ताइ जु यिंग के हाथों सीधे गेम में हार के साथ ही टोक्यो ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने का सपना टूट गया. रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता सिंधु ने ताइ जु के खिलाफ पहले गेम में कड़ी चुनौती पेश की लेकिन आखिर में उन्हें 40 मिनट तक चले मैच में 18-21, 12-21 से हार का सामना करना पड़ा. सिंधू अब कांस्य पदक के लिए चीन की ही बिंग जियाओ से भिड़ेंगी, जिन्हें हमवतन चेन यू फेई ने पहले सेमीफाइनल में 21-16, 13-21, 21-12 से हराया था. 

ओलंपिक में क्वार्टर फाइनल तक सिंधु ने शानदार प्रदर्शन किया था, लेकिन सेमीफाइनल में वे चीनी खिलाड़ी के सामने संघर्ष करती नजर आईं. भले ही सिंधु सेमीफाइनल में हार गईं, लेकिन अब भी वे अगला मैच जीतकर देश के लिए ब्रॉन्ज मेडल ला सकती हैं. अब वे अगला मुकाबला जीतकर मेडल के साथ अपना ओलंपिक सफर खत्म करना चाहेंगी. 

सेमीफाइनल के बाद क्या बोले सिंधु के पिता  

हैदराबाद में बैठकर पीवी सिंधु का परिवार सेमीफाइनल मुकाबला देख रहा था. मैच के बाद उनके पिता पीवी रमना ने कहा, “जब कोई खिलाड़ी लय में नहीं आ पाता तो यह सब होता है. कल वह अच्छी लय में थी और वापसी कर उसने अकाने यामागुची को हराया था. आज ताई जु यिंग ने उसे वापसी करने का कोई मौका नहीं दिया.”

भारत के लिए अच्छा नहीं रहा शनिवार का दिन

भारतीय मुक्केबाजी के लिए भी शनिवार का दिन निराशाजनक रहा जिसमें दुनिया के नंबर एक मुक्केबाज अमित पंघाल (52 किग्रा) के बाद पूजा रानी (75 किग्रा) भी अपनी प्रतिद्वंद्वी से हारकर टोक्यो ओलंपिक से बाहर हो गयीं. इधर भारतीय निशानेबाज अंजुम मोदगिल और तेजस्विनी सावंत महिलाओं की 50 मीटर राइफल थ्री के फाइनल में जगह बनाने से चूक गए. क्वालीफाइंग राउंड में अंजुम 15वें और तेजस्विनी 33वें स्थान पर रहीं.

यह भी पढ़ेंः Tokyo Olympics: भारतीय मुक्केबाज पूजा रानी क्वार्टर फाइनल में हारीं, मेडल की उम्मीद खत्म

Source link