Property dealer of Greater Noida paying a ransom of 40 lakhs, police have not yet got the clue of the miscreants

20

पीड़ित किसी तरह से  40 लाख रुपये बदमाशों को देकर छूट कर आ गया था. पीड़ित की शिकायत पर 15 जुलाई को पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया था लेकिन अब तक पुलिस नामजद किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 02 Aug 2021, 06:36:37 PM

40 लाख फिरौती देकर छूटा प्रॉपर्टी डीलर (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • अपहरण में शामिल आरोपी पति-पत्नी की पुलिस कर रही है तलाश
  • आरोपियों की तालाश में लगी हैं पुलिस की कई टीमें
  • घटना के 15 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली

ग्रेटर नोएडा :

कोतवाली बीटा-2 क्षेत्र के एल्डिको ग्रीन मीडोज सोसायटी में रहने वाले विकास गर्ग ने 14 जुलाई की रात अपने पुराने बिजनेस पार्टनर सचिन शर्मा को किडनैप कर एक करोड़ रुपये फिरौती मांगी थी. इस पर पीड़ित किसी तरह से  40 लाख रुपये बदमाशों को देकर छूट कर आ गया था. पीड़ित की शिकायत पर 15 जुलाई को पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया था लेकिन अब तक पुलिस नामजद किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है. पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने  किडनैप करने वाले विकास गर्ग, फिरौती की रकम लेने वाली विकास गर्ग की पत्नी पूजा गर्ग, विकास गर्ग के मामा राजू और विकास के दो साथियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

कोतवाली बीटा-2 क्षेत्र की एल्डिको ग्रीन मिडोज सोसाइटी में विकास गर्ग और सचिन शर्मा रहते हैं. दोनों कुछ महीने पहले तक प्रॉपर्टी के बिजनेस में पार्टनर थे. करीब 5 माह पहले दोनों बिजनेस पार्टनर के बीच विवाद होने के कारण दोनों में मतभेद हो गया और वह अलग हो गए थे. सचिन शर्मा ने गुरुवार 15 जुलाई को कोतवाली बीटा-2 पुलिस को शिकायत देते हुए मुकदमा दर्ज करवाया था कि बुधवार 14 जुलाई की शाम करीब 6 बजे उनके पूर्व बिजनेस पार्टनर और  VVIP Property कंपनी के मालिक विकास गर्ग और उसके साथियों ने उसे अपनी गाड़ी में जबरन बैठा कर किडनैप कर लिया और उसके बाद ग्रेटर नोएडा की सड़कों पर इधर- उधर घुमाते रहे. इस दौरान आरोपियों ने उसकी पिटाई भी की। आरोपियों ने पहले सचिन को छोड़ने के बदले 1 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी लेकिन सचिन ने इतनी रकम देने में असमर्थता जताई तो 40 लाख में बदमाश राज़ी हो गए और बाकी रकम बाद में देने की बात कही.

यह भी पढ़ेंः अवैध शराब पर लगाम लगाने के लिए सख्त कानून लाएगी शिवराज सरकार

इस पर पीड़ित सचिन ने अपने दोस्त रिंकू की मदद से बदमाशों को 40 लाख रुपये दिलवाए. फिरौती की रकम लेने के बाद बदमाश पीड़ित सचिन शर्मा को विप्रो कंपनी के पास सुनसान जगह पर उतार कर फरार हो गए. पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने  किडनैप करने वाले विकास गर्ग, फिरौती की रकम लेने वाली विकास गर्ग की पत्नी पूजा गर्ग, विकास गर्ग के मामा राजू और विकास के दो साथियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. खास बात यह है कि घटना के 15 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक किसी भी आरोपी को गिरफ़्तार नहीं कर सकी है. कोतवाली बीटा-2 प्रभारी रामेश्वर कुमार ने बताया कि आरोपियों की तलाश में पुलिस की 2 टीमें लगाई गई हैं, जल्द ही आरोपियों को  गिरफ्तार कर लिया जाएगा.



संबंधित लेख

First Published : 02 Aug 2021, 06:36:37 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link