PM Narendra Modi Spoke To Former Indian Sprinter Milkha Singh And Inquired About His Health

128

कोरोना वायरस को मात देने के बाद ‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह की तबीयत एक बार फिर से बिगड़ गई है. मिल्खा सिंह को गुरुवार दोपहर दोबारा से चंडीगढ़ के पीजीआई हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फोन के जरिए मिल्खा सिंह का हाल चाल जाना है. पीएम मोदी ने मिल्खा सिंह के जल्द ठीक होने की कामना की है.

पिछले करीब एक महीने से मिल्खा सिंह की तबीयत खराब चल रही है. 91 साल के मिल्खा सिंह की 20 मई को कोरोना वायरस रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. तबीयत खराब होने पर मिल्खा सिंह को मोहाली के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया.

मिल्खा सिंह को कोविड के दौरान भी सांस लेने में समस्या का सामना करना पड़ा और उन्हें आईसीयू में भर्ती करना पड़ा था. मिल्खा सिंह ने हालांकि तेजी से रिकवर किया था और वह दो दिन बाद ही आईसीयू से बाहर आ गए थे. 31 मई को मिल्खा सिंह की कोरोना वायरस रिपोर्ट नेगेटिव आई थी और उन्हें हॉस्पिटल से छुट्टी मिल गई थी. मिल्खा सिंह की पत्नी भी कोरोना वायरस से जूझ रही हैं और उनका हॉस्पिटल में ईलाज चल रहा है.

दोबारा हॉस्पिटल में भर्ती हुए मिल्खा सिंह

लेकिन एक बार फिर से मिल्खा सिंह को सांस लेने में तकलीफ का सामना करना पड़ा है. इसी वजह से गुरुवार दोपहर को उन्हें दोबारा हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया. फिलहाल मिल्खा सिंह की हालत स्थिर बताई जा रही है और डॉक्टर्स उनके स्वास्थ्य पर पूरी नज़र बनाए हुए हैं. 

बता दें कि मिल्खा सिंह के नाम कई बड़े रिकॉर्ड दर्ज हैं. मिल्खा सिंह ने 200 मीटर और 400 मीटर रेस में भारत को कई मेडल दिलाए हैं. इसके अलावा मिल्खा सिंह 1960 कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतने वाले पहले खिलाड़ी बने थे. मिल्खा सिंह 1960 ओलंपिक खेलों में 400 मीटर रेस में चौथा स्थान हासिल करने में कामयाब हुए थे. 

इंग्लैंड में टीम इंडिया के खिलाड़ियों को मिलेगी राहत, इसलिए गुजार पाएंगे अच्छा समय

Source link