फार्मेसिस्टों ने आयोग कार्यालय पर किया जोरदार प्रदर्शन

66

भास्कर न्यूज

लखनऊ। होम्योपैथिक फार्मेसिस्टों का सब्र आखिर टूट गया । सीटों पर परिणाम आने, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद भी अंतिम चयन सूची जारी ना होने से नाराज सैकड़ो फार्मेसिस्टों ने मंगलवार को अधीनस्थ सेवा चयन आयोग कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया।

आयोग के सचिव ने फार्मासिस्ट कर्मियों को समझाया और आश्वस्त किया कि दशहरे के पूर्व चयन सूची जारी हो जाएगी।फार्मेसिस्ट फेडरेशन उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष सुनील यादव ने बताया कि ढाई वर्ष पूर्व 2019 में होम्योपैथिक फार्मासिस्ट की भर्ती में उत्तीर्ण फार्मासिस्ट का अंतिम परिणाम को लेकर यह धरना आयोजित किया गया ।

भर्ती प्रक्रिया 2019 से चली आ रही है इसका अंतिम परिणाम आयोग ने 17 दिसंबर 2020 को निकाला था इसके बाद आयोग ने दोनों सूचियों का अभिलेख परीक्षण समय से करा लिया था, चयनित फार्मासिस्ट पिछले 10 महीने से अंतिम चयन सूची ना आने से परेशान है ।

आयोग के सचिव ने चयनित फार्मासिस्ट छात्रों को अंतिम परिणाम 10दिन में दशहरा तक जारी करने के आश्वासन के बाद चयनित छात्रों द्वारा 10 दिन की मोहलत देते हुए कहा कि अगर 10 दिन में अंतिम परिणाम आयोग नहीं घोषित किया गया तो 18 अक्टूबर को सारे चयनित फार्मासिस्ट आयोग में अपने अंतिम परिणाम को लेकर अपना विशाल धरना प्रदर्शन करेंगे ।

धरना प्रदर्शन में सैकड़ो फार्मेसिस्टों के साथ विवेक पाल, विवेक मिश्रा, अर्पित शर्मा, अंकित बासु, सौरभ गुप्ता, अभिषेक मिश्रा, दुष्यंत सिंह, सुशील, विवेक सिंह, रंजीत यादव, दिलीप , लक्ष्मी राणा, सोनम गुप्ता, ज्योति, नवीन मिश्रा आदि चयनित फार्मासिस्ट मौजूद रहे ।