पिछड़ा वर्ग आयोग पर लोगों का बढ़ रहा विश्वास-जसवन्त सैनी

28

आयोग की बैठक में विभिन्न बिंदुओं को किया शामिल
भास्कर न्यूज

लखनऊ।उत्तर प्रदेश राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग समाज के कमजोर अन्य पिछड़े वर्गों के लोगों को सामाजिक, आर्थिक एवं शैक्षिक उत्थान के लिए पूरी निष्ठा एवं ईमानदारी से कार्य कर रहा है। इसके लिए आयोग राज्याधीन सेवाओं में पिछड़े वर्गों के लिए अनुमन्य आरक्षण सुनिश्चित कराने तथा पिछड़े वर्ग की सूची में अपेक्षित जातियों का समावेश करने अथवा निस्कासित करने की संस्तुति शासन को भेजने का कार्य कर रहा है।
आयोग के प्रत्येक सदस्य को ब्लाक स्तर से लेकर जनपद स्तर तक पिछड़े वर्ग के संरक्षण, कल्याण और विकास के लिए रक्षोपायों और राज्य उपायोें के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए कार्य करना होगा तभी इन जातियों वर्गों का बहुमुखी विकास एवं जीवन स्तर में बदलाव लाया जा सकेगा।यह बातें राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष, जसन्त सैनी ने बुधवार यहां इन्दिरा भवन, तृतीय तल स्थित सभागार में आयोजित बैठक में कहीं। सैनी राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
बैठक में उप्र के सभी विभागों में नौकरी भर्ती आवेदनों में आवेदन शुल्क सामान्य वर्ग के बराबर न रखने के सम्बंध में, उप्र पिछड़े वर्ग की सूची में क्रमांक 15 पर अंकित गड़ेरिया, पाल एवं बघेल के स्थान पर गड़ेरिया अंकित करने के सम्बंध में एवं गड़ेरिया के साथ जोड़े गये पाल व बघेल को विलोपित कर गड़ेरिया के सम्मुख नीखर शब्द अंकित करने के सम्बंध में, डोहर जाति को उप्र की अन्य पिछड़े वर्ग की सूची में सम्मिलित करने के सम्बंध में, उप्र के अन्य पिछड़े वर्ग की सूची में बोट जाति को सम्मिलित करने के सम्बंध में, गोरखा समुदाय को उप्र की अन्य पिछड़े वर्ग की सूची में सम्मिलित करने के सम्बंध में एवं मुजावर (मसूदी) जाति को अन्य पिछड़े वर्ग की सूची में सम्मिलित किये जाने के सम्बंध में एवं पिछड़े वर्ग की सूची में डफाली के स्थान पर मसऊदी नाम को सम्मिलित करने जैसे बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा की गई।
सैनी ने कहा कि राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग प्रदेश के कमजोर एवं पीडि़त समुदाय को न्याय प्रदान करने के लिए निरन्तर सुनवाई कर रहा है। इससे पिछड़े वर्गों के लोगों द्वारा की गई विभिन्न प्रकार की समस्याओं से सम्बंधित शिकायती वादों का त्वरित निस्तारण सम्पन्न हो पा रहा है। यही कारण है कि राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग पर पिछड़े वर्ग का विश्वास बढ़ा है।बैठक में राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के उपाध्यक्ष, हीरा ठाकुर,प्रभुनाथ चैहान, आयोग के सदस्यगण, आयोग की सचिव अर्चना गहरवार सहित आयोग के अधिकारी उपस्थित रहे।