Patt Cummins Revels Why Pace Bowler Don’t Get Much Success In India

80

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर पैट कमिंस आईपीएल स्थगित होने के बाद अब तक अपने घर नहीं पहुंच पाए हैं. कमिंस फिलहाल सिडनी में क्वारंटीन हैं. कमिंस ने हालांकि बताया है कि क्यों भारतीय पिचों पर विदेशी तेज गेंदबाज ज्यादा विकेट लेने में कामयाब नहीं होते हैं. कमिंस का कहना है कि भारतीय पिचों पर विदेशी तेज गेंदबाजों की कोशिश सिर्फ रन रोकने की रहती है.

कमिंस आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स टीम का हिस्सा हैं. कमिंस ने कहा कि मेरी राय दूसरों से अलग है. स्टार तेज गेंदबाज ने कहा, ”कभी-कभी भारतीय पिचें स्पिनरों के अनुकूल होती हैं. अगर पिच स्पिन के अनुकूल नहीं हैं, तो वे बहुत सपाट हो जाती हैं. आपको उतनी गति नहीं मिलती जितनी ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका में मिलती है या इंग्लैंड की जिस तरह की सीम मिलती है.”

कमिंस ने आगे कहा, ”यह एक चुनौती है, हो सकता है कि आपने एडजस्ट कर लिया हो. हो सकता है कि आपका लक्ष्य अगर विकेट संभव नहीं है तो रन रोकना हो गया हो. ये पिचें और इनके लिए बनाई गई रणनीति थोड़ी अलग होती है.”

भारत में अच्छा नहीं है कमिंस का प्रदर्शन

टेस्ट गेंदबाजों की रैंकिंग में नंबर- 1 पर काबिज कमिंस ने भारत में सिर्फ दो टेस्ट खेले हैं और आठ विकेट लिए हैं. भारत में उनका औसत उन पांच देशों में सबसे खराब है, जिनमें उन्होंने टेस्ट क्रिकेट खेला है. भारत में उनका औसत 30.25 है.

कमिंस को केकेआर ने पिछले साल केकेआर ने 15 करोड़ रुपये की भारी रकम खर्च करके खरीदा था. कमिंस ने कहा कि उन्हें उपमहाद्वीप की परिस्थितियों में अच्छा प्रदर्शन करने का तरीका खोजने की जरूरत है. 

आईपीएल 2020 में 14 मैचों में 12 और स्थगित आईपीएल 2021 में सात मैचों में नौ विकेट लिए. कमिंस ने माना है कि उन्हें भारत में खेलते हुए अपनी गेंदबाजी में सुधार करने की जरूरत है.

IND vs ENG, Test Championship Final: ICC ने किया एलान- मैच ड्रॉ या टाई होने पर ऐसे घोषित होगा विजेता

Source link