nawab malik allegations on sameer wankhede: Nawab Malik News: मुसलानों की भलाई नहीं, बिल्डरों की खुशामद में जुटे हैं नवाब मलिक, हाजी अराफात का आरोप – nawab is favouring his relatives not muslims alleges bjp leader hazi arafat shaikh

25

हाइलाइट्स

  • नवाब मलिक पर हाजी अराफात शेख का पलटवार
  • शेख ने कहा कि बिल्डरों की खुशामद में जुटे हैं नवाब मलिक
  • शेख ने कहा कि नवाब मलिक करोड़ों के घपले में भी शामिल ईडी से करूंगा शिकायत

मुंबई
कुछ दिन पहले महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने बीजेपी नेता और माइनॉरिटी कमीशन के पूर्व अध्यक्ष हाजी अराफात शेख पर गंभीर आरोप लगाए थे। जिनका का जवाब शनिवार को बड़े ही तीखे लहजे में अराफात ने दिया।

मलिक का अंडरवर्ल्ड कनेक्शन
हाजी अराफात शेख ने कहा कि नवाब मलिक ने ना सिर्फ भ्रष्टाचार किया है बल्कि उनके संबंध अंडरवर्ल्ड से भी हैं।
उन्होंने कहा कि मलिक ने पहला घोटाला मुंब्रा की जुम्मा मस्जिद में 9 करोड रुपए का घपला किया है। यहां उन्होंने एक जमीन को तीस साल के लिए लीज पर दिया है।

पुणे में नौ करोड़ का घपला सामने आया था। तब जिम्मेदार लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई थी। अब उसी तरह का मामला सामने आया है। हमारी प्रवर्तन निदेशालय से मांग है कि इस मामले की गंभीरता से जांच की जाए।

पुणे के ट्रस्ट में घोटाला
अराफात शेख ने कहा कि पुणे के एक ट्रस्ट में 9 करोड़ रुपए आए। जब कोई वक्फ बोर्ड की जमीन बिकती है तब उसका पैसा ट्रस्ट में आता है। इसी तरह के एक मामले में पैसा ट्रस्ट के अकाउंट में ना आने पाए। इसके लिए दो करोड़ में सौदा किया गया। हालांकि जैसे ही यह मामला मीडिया के जरिए जनता के सामने आया है। तब नवाब मलिक ने कहा कि पैसे ट्रस्ट के अकाउंट में ट्रांसफर किए जाएं। जिसके बाद मामला दर्ज करने का आदेश मलिक की तरफ से दिया गया।

नया साल जेल में मनाएंगे मलिक
हाजी अराफात ने आरोप लगाते हुए कहा कि नवाब मलिक का ध्यान मुसलमानों की भलाई पर नहीं है। बल्कि वह बिल्डरों को फोन करके 100 करोड़ रुपए की जमीन 25 करोड़ में दे देते हैं। आजकल मलिक सिर्फ बिल्डरों की खुशामद में जुटे हुए हैं। नवाब मलिक पूरे महाराष्ट्र में अल्पसंख्यक समाज की जमीन को अपने रिश्तेदारों में बांटने के काम में लगे हुए हैं। अराफात शेख ने कहा कि नवाब मलिक अगला साल जेल में मनाएंगे। आप के खिलाफ सारे सबूत मैं प्रवर्तन निदेशालय को दूंगा। महाराष्ट्र में एक बड़े पत्रकार के मर्डर में भी आप का क्या रोल था, मैं उसका भी खुलासा करूंगा।

कुर्ला में चरस मलिक के नाम से मशहूर
नवाब मलिक पर हमला करते हुए अराफात शेख ने कहा कि पूरे कुर्ला इलाके में सब लोग उन्हें नवाब मलिक नहीं बल्कि चरस मलिक के नाम से जानते हैं। शेख ने कहा कि मलिक ने मेरे भाई के ऊपर आरोप लगाया कि वह नकली नोट के साथ पकड़ा गया था। उस समय मेरा भाई कांग्रेस में एक बड़े पद पर था अगर मेरा भाई गलत है तो उसे कड़ी सजा होनी चाहिए और वह सजा काट कर आया है।

nawab malik

नवाब मलिक

Source link