Nagpur: 6 people including 4 auto drivers gang-raped minor girl , नागपुर में मानवता शर्मसार, नाबालिग लड़की से 2 घंटे में दो बार गैंगरेप

32

महाराष्ट्र के नागपुर में दरिंदों ने एक नाबालिग लड़की को दो घंटों के भीतर दो बार अपनी हवस का शिकार बनाया है

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 02 Aug 2021, 09:56:54 PM

gangrape (Photo Credit: सांकेतिक तस्वीर)

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के नागपुर ( Nagpur gangrape ) से दिल दहलाने वाली खबर सामने आई है. यहां दरिंदों ने एक नाबालिग लड़की को दो घंटों के भीतर दो बार अपनी हवस का शिकार बनाया. जानकारी के अनुसार घरवालों से नाराज होकर निकली लड़की किसी तरह इन आरोपियों के चंगुल में फंस गई, जिसके बाद चार ऑटोरिक्शा चालक समेत 6 लोगों ने उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया. फिलहाल पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. ​पुलिस इस मामले में आगे की कार्रवाई कर रही है.

 

कमरे में चार लोगों ने लड़की के साथ रेप किया

एक सीनियर पुलिस अधिकारी के अनुसार यह घटना टिमकी इलाके की है. यहां गुरुवार रात को एक कमरे में चार लोगों ने लड़की के साथ रेप किया. जिसके बाद मेयो हॉस्पिटल चौक के नजदीक ऑटोरिक्शा में सवार दो लोगों ने फिर उसका यौन उत्पीड़न किया. उन्होंने बताया कि पीड़िता अनुसूचित जाति समुदाय से ताल्लुक रखती है और घर से लड़ ​कर बाहर निकली थी. इस बीच उसके एक दोस्त ने उसको अपने ऑटोरिक्शा में लोहापुल इलाके में छोड़ दिया, जहां एक ऑटोरिक्शा चालक से उसकी मुलाकात हुई. ऑटोरिक्शा चालक की पहचान शाहनवाज उर्फ ​​सना मोहम्मद राशिद (25) के रूप में हुई.

यह भी पढ़ेंःकेंद्र पर ओवैसी का हमला, संसद में पेगासस मुद्दे पर बहस से डरती है सरकार

दोस्त से मांगी थी मदद

पुलिस अधिकारी ने बताया कि लड़की ने शाहनवाज से पैसे और रुकने का ठिकाने की मांग की. जिसके बाद वह उसको अपनी ऑटोरिक्शा में बैठाकर एक शराब की दुकान पर ले गया जहां उसने खुद भी शराब पी और लड़की को भी जबरन शराब पिलाई. फिर वह उसको एक किराए के कमरे में ले गया, जहां पहले से ही दो लोग रह रहे थे. यहां पर शाहनवाज, उसके दोस्त मोहम्मद तौसिफ मोहम्मद यूसुफ (26) और दो लोडर ने कथित तौर पर नाबालिग के साथ रेप किया. पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है.

यह भी पढ़ेंःसंसद के बाहर सत्र चलाने की तैयारी में विपक्ष, राहुल गांधी ने भेजा विपक्षी सांसदों को न्योता

जीआरपी ने उसको पुलिस को सौंप दिया

जानकारी के अनुसार रेप की घटना को अंजाम देने के बाद शाहनवाज पीड़िता को अपने तिपहिया वाहन में बैठाकर मेयो अस्पताल चौक ले गया और वहीं छोड़ दिया. बताया गया कि यहां पर दो अन्य ऑटोरिक्शा चालक लड़की को जबरन उठाकर अपने तिपहिया में ले गए और उसके साथ बलात्कार किया. इस बीच जब लोगों ने आधी रात पीड़िता को अकेले खड़े देखा तो उससे बात की. लोगों की मदद से लड़की रेलवे स्टेशन पहुंची और यहां जीआरपी ने उसको पुलिस को सौंप दिया.



संबंधित लेख

First Published : 02 Aug 2021, 09:50:56 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link