Mulayam Singhs younger sons brother-in-law accused of disproportionate assets, demand for CBI inquiry

105

मुलायम सिंह के छोटे बेटे प्रतीक यादव के साले पर आय से अधिक संपत्ति का आरोप लगा है.

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के छोटे बेटे प्रतीक यादव के साले अमन सिंह बिष्ट पर के ऊपर आय से अधिक संपत्ति का आरोप लगा है. एक अधिवक्ता विश्वनाथ चतुर्वेदी उनकी शिकायत CBI से की है और जांच कराने की मांग की है.

लखनऊ. सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के परिवार से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है. मुलायम सिंह यादव के छोटे बेटे प्रतीक यादव के साले अमन सिंह बिष्ट पर के ऊपर आय से अधिक संपत्ति का आरोप लगा है. एक दर्जन से अधिक फर्जी कंपनी बनाकर करोड़ों के ट्रांजैक्शन करने का आरोप लगा है. अमन सिंह बिष्ट ने अपने सगे संबंधियों के साथ मिलकर दर्जन भर से अधिक ऐसी कंपनियां बनाईं, जो करती लाखों करोड़ों का ट्रांजैक्शन करती थी, लेकिन जमीनी स्तर पर उनका कोई काम नहीं दिखता था.

मुलायम सिंह यादव और उनके परिवार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज करवाने वाले अधिवक्ता विश्वनाथ चतुर्वेदी ने सीबीआई निदेशक को पत्र लिखा है. सीबीआई निदेशक को पत्र लिखकर प्रतीक यादव के साले अमन सिंह बिष्ट और उनकी 1 दर्जन से अधिक कागजी कंपनियों की जांच कराए जाने की की गुजारिश की है.

सीबीआई निदेशक को भेजे गए पत्र में अधिवक्ता विश्वनाथ चतुर्वेदी ने बताया है कि मोनल इंफ्रा प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड, मोनल इंफ्रावेंचर्स प्राइवेट लिमिटेड, पिससेसिया पावर ट्रांसमिशन लिमिटेड, समेत एक दर्जन से अधिक कंपनियों के माध्यम से करोड़ों का वारा न्यारा हुआ है. सभी कंपनी एक ही पते 2/11 विराट खंड गोमती नगर पर रजिस्टर हैं. सीबीआई को लिखे पत्र में अधिवक्ता विश्वनाथ चतुर्वेदी ने सीबीआई जांच कराने की मांग की है. 16 फरवरी को सीबीआई को लिखे पत्र में पूरी जानकारी दी है. अधिवक्ता विश्वनाथ चतुर्वेदी ने बताया एक महीने पूरे होने पर सुप्रीम कोर्ट के में याचिका डालेंगे.







Source link