Mother and son stabbed to death in Delhi Kalkaji area woman was Kyrgyzstan citizen

26

राजधानी दिल्ली के कालकाजी इलाके में एक महिला और उसके मासूम बेटे की हत्या का मामला सामने आया है। डबल मर्डर की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार, ग्रेटर कैलाश इलाके में रहने वाली किर्गिस्तान की एक महिला और उसके 14 महीने के मासूम बेटे की कालकाजी के एक घर में कथित तौर पर चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। महिला अपने बेटे के साथ यहां अपने दोस्त के घर आई थी। पुलिस को इमारत में किसी तरह की फोर्स एंट्री के निशान नहीं मिले हैं, ऐसे में पुलिस को इस डबल मर्डर के पीछे महिला के किसी जानकार का हाथ होने का शक है। फिलहाल, पुलिस की ओर से दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए सुरक्षित रखवाकर किर्गिस्तान दूतावास को मामले की सूचना दे दी गई है। 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, मंगलवार को कालकाजी थाना पुलिस को इलाके के मकान संख्या K-22-B में एक महिला और बच्चे की हत्या के संबंध में कॉल आई थी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस को मूलरूप से किर्गिस्तान की रहने वाली मायस्कल ज़ुमाबेवा (28 साल) पत्नी विनय चौहान उसका बेटा मानस बिस्तर पर पड़े मिले। महिला S-78, 1st फ्लोर, ग्रेटर कैलाश-II में रहती थी।

पॉश इलाके में हुई इस वारदात के बाद वरिष्ठ अधिकारियों ने भी क्राइम और फॉरेंसिक टीमों के साथ घटनास्थल का दौरा  किया। प्रारंभिक पूछताछ में पता चला कि रात में महिला की अपने पति विनय के साथ अस्पताल जाने को लेकर बहस हुई थी। इसके बाद विनय उसे जीके में घर पर छोड़कर अपने दोस्त वाहिद से मिलने चला गया था।

इसके बाद मायस्कल ने अपने एक दोस्त मतलुबा मदुस्मोनोवा (उज़्बेकिस्तान के नागरिक) निवासी K-22B कालकाजी को मदद के लिए बुलाया था और मतलुबा और उसकी दोस्त अविनीश उसे अस्पताल लेकर गए थे और बाद में मतलुबा उसे अपने घर पर ले गया था, जहां वो सुबह मृत पाए गए।

डीसीपी (साउथ-ईस्ट) आर.पी. मीणा ने बताया कि किर्गिस्तान की एक नागरिक और उसका बेटा आज सुबह कालकाजी इलाके के एक घर में मृत पाए गए। कालकाजी थाने में हत्या का मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

 



Source link