Madhuri Dixit की 'अबोध' में असिस्टेंट डायरेक्टर थे सूरज बड़जात्या, एक्ट्रेस ने सोचा नहीं था बनेंगे इस फिल्म के डायरेक्टर

284

<p style=”text-align: justify;”><span style=”font-weight: 400;”>कहते हैं अगर आपके अंदर हुनर है तो आपको बोलने की ज़रुरत नहीं होती, आपका काम ही काफी होता है. सूरज बड़जात्या भी उन्हीं निर्देशकों में से एक हैं जो बेहद कम बोलते हैं और जितना भी बोलते हैं वो भी शालीन तरीके से बोलते हैं क्योंकि

Source link