Karan Johar Statement On Drug Party | ड्रग्स केस: NCB की जांच के बीच करण जौहर बोले

50

ड्रग्स केस: NCB की जांच के बीच करण जौहर ने कहा है कि मेरे घर ड्रग्स पार्टी नहीं हुई थी. मेरे ऊपर लग रहे आरोप गलत हैं. उन्होंने कहा कि क्षितिज रवि प्रसाद और अनुभव चोपड़ा का धर्मा प्रोड्क्शन से कोई नाता नहीं है.

करण जौहर ने अपने बयान में कहा, “कुछ न्यूज़ चैनल, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ये गलत रिपोर्टिंग कर रहे हैं कि एक पार्टी में नारकोटिक्स का इस्तेमाल किया गया, जिसे मैंने यानी करण जौहर ने 28 जुलाई 2019 को अपने घर पर होस्ट किया था. मैं इस बारे में अपना पक्ष काफी पहले साल 2019 में ही रख चुका हूं कि सारे इल्ज़ाम झूठे थे.”

उन्होंने कहा कि इस वक्त चल रहे दुर्भावनापूर्ण कैंपेन को देखते हुए मैं एक बार फिर साफ करता हूं कि सभी आरोप बेबुनियाद हैं. उन्होंने जोर देते हुए कहा कि मैं ड्रग्स नहीं लेता हूं और न ही मैं इस तरह की किसी भी चीज को बढ़ावा देता हूं.

करण जौहर ने कहा कि क्षितिज रवि प्रसाद और अनुभव चोपड़ा न तो मेरे करीबी हैं और न मैं व्यक्तिगत तौर पर इन्हें जानता हूं. न ही मैं और न ही धर्मा प्रोड्क्शन इस बात के लिए जिम्मेदार है कि कोई व्यक्ति अपनी निजी जिंदगी में क्या करता है.

बता दें कि एनसीबी के अधिकारियों ने धर्मा प्रोडक्शन के कार्यकारी निर्माता क्षितिज रवि प्रसाद को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स केस में पूछताछ की है.  धर्मा प्रोडक्शन करण जौहर की कंपनी है.

शुक्रवार को रात के करीब 11 बजे बजे एनसीबी के सूत्रों ने बताया कि क्षितिज रवि प्रसाद को जांच के सिलसिले में हिरासत में लिया गया है.

आज दिन में एनसीबी के अधिकारी ने बताया था कि अधिकारियों का दल सुबह उपनगर वर्सोवा में रवि के आवास पर पहुंचा. एनसीबी के अधिकारी उन्हें अपने वाहन में बैठाकर दक्षिण मुंबई स्थित अपने कार्यालय में ले गए.

अधिकारी ने बताया कि रवि को बॉलीवुड में नशीले पदार्थों के कथित इस्तेमाल संबंधी मामले में पूछताछ के लिए ले जाया गया. एनसीबी ने बृहस्पतिवार को रवि के आवास पर छापा मारा था, लेकिन वह उस समय वहां नहीं मिले थे.

अधिकारी ने बताया कि इसके बाद, रवि को शुक्रवार को एनसीबी जांच दल के सामने पेश होने को कहा गया था. रवि शहर से बाहर थे. वह शुक्रवार सुबह अपने आवास पहुंचे, जहां से उन्हें एजेंसी कार्यालय ले जाया गया.

इस बीच, अभिनेत्री दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा प्रकाश भी अपना बयान दर्ज कराने के लिए शुक्रवार को एनसीबी के सामने पेश हुईं. एनसीबी के सूत्रों ने बताया था कि करिश्मा प्रकाश के वाट्सऐप चैट से किसी ‘डी’ के साथ हुई उनकी बातचीत का पता चला और केंद्रीय एजेंसी जानना चाहती है कि यह व्यक्ति कौन है.

एनसीबी ने राजपूत की मौत के बाद सामने आए मादक पदार्थ मामले की जांच शुरू की थी. अब एजेंसी ने अपनी जांच का दायरा बढ़ा दिया है और बॉलीवुड की कुछ और शख्सियतों को ‘‘जांच में शामिल’’ होने के लिए कहा है.

ड्रग्स केस: रकुल प्रीत सिंह से चार घंटे चली पूछताछ, इस दौरान रिया चक्रवर्ती का जिक्र करते हुए मानी ये बात

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here