IPL’s Five Biggest Controversies, Embarrassing When World’s Most Popular T20 League

28

Five Biggest IPL Controversies: इंडियन प्रीमियर लीग की शुरुआत 2008 में हुई थी. अब 09 अप्रैल से इसका 14वां एडिशन खेला जाएगा. इस लीग ने विश्व क्रिकेट को एक से बढ़कर एक स्टार खिलाड़ी दिए हैं. दुनिया भर में अपनी चकाचौंध के लिए पहचानी जाने वाली यह लीग कुछ विवादों में भी रही है. आज हम आपको इस लीग के पांच सबसे बड़े विवाद के बारे में बताने जा रहे हैं.

1- जब आजीवन बैन हुए ललित मोदी

इंडियन प्रीमियर लीग का प्लान ललित मोदी का ही था, उन्होंने ही इस लीग की शुरुआत की थी. हालांकि, 2010 में उनपर पैसों का गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगा और उन्हें BCCI ने उनके पद से निलंबित कर दिया. इसके बाद साल 2013 में उनपर लगे सभी आरोप सही साबित हुए और फिर उन्हें बीसीसीआई ने क्रिकेट से जुड़ी सभी गतिविधियों से आजीवन बैन कर दिया.

2- हरभजन सिंह और श्रीसंत विवाद

आईपीएल का पहला विवाद इस लीग के पहले सीज़न में ही हुआ. जब ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने तेज गेंदबाज एस श्रीसंत को सरेआम थप्पड़ मार दिया था. दरअसल, 25 अप्रैल, 2008 को मोहाली में खेले गए किंग्स इलेवन पंजाब और मुंबई इंडियंस के बीच मैच के बाद श्रीसंत रोते हुए देखे गए. भज्जी ने उन्हें किसी बात पर थप्पड़ मार दिया था. इसके बाद हरभजन को 11 मैचों के लिए सस्पेंड कर दिया गया था.

3- स्पॉट-फिक्सिंग मामला

2013 में दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग पर सबसे बड़ा दाग लगा. दरअसल, आईपीएल 2013 में तीन खिलाड़ियों पर स्पॉट-फिक्सिंग के आरोप लगे. इसमें भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत, अंकित चव्हाण और अजित चंदीला गिरफ्तार भी हुए. इसके बाद बीसीसीआई ने इन सभी को आजीवन बैन कर दिया गया था. हालांकि, श्रीसंत ने इसको चैलेंज किया और फि उनकी सज़ा कम कर दी गई.

4- चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स पर लगा बैन

सट्टेबाजी से जुड़े विवाद में चेन्नई सुपरकिंग्स के मालिक एन श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मयप्पन और राजस्थान रॉयल्स के मालिक राज कुंद्रा भी दोषी साबित हुए. इसके बाद चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स पर दो साल का बैन लगा दिया गया था.

5- किंग खान हुए प्रतिबंधित

आईपीएल 2012 में केकेआर के मालिक शाहरुख खान के वानखेड़े स्टेडियम में प्रवेश करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. दरअसल शाहरुख पर मैदानकर्मियों से अभद्रता और मारपीट का आरोप लगा. हुआ ये कि शाहरुख को मैदान में प्रवेश करने से एक सुरक्षाकर्मी ने रोक दिया. इससे बादशाह खान क्रोधित हो गए. हालांकि, बाद में मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने शाहरुख पर स्टेडियम में प्रवेश करने पर प्रतिबंध लगा दिया. हालांकि, 2015 में यह प्रतिबंध हटा लिया गया.

यह भी पढ़ें- 

लॉर्ड्स में भारत की ऐतिहासिक जीत के बाद Sourav Ganguly को टी-शर्ट उतारने से रोक रहे थे लक्ष्मण, दादा ने सुनाया मज़ेदार किस्सा

Source link