IPL 2021: दिल्ली के खिलाफ हार के बाद बल्लेबाज़ों पर जमकर बरसे रोहित शर्मा, खुद को भी ठहराया दोषी

23

<p style="text-align: justify;"><strong>Mumbai Indians vs Delhi Capitals:</strong> शारजाह में खेले गए आईपीएल 2021 के 46वें मुकाबले में मुंबई इंडियंस को हार का सामना करना पड़ा. इस मैच में मुंबई ने पहले खेलते हुए 129 रन बनाए थे. इसके जवाब में दिल्ली कैपिटल्स ने छह विकेट खोकर अंतिम ओवर में लक्ष्य का पीछा कर लिया. इस हार के साथ ही मुंबई की प्लेऑफ में पहुंचने की राह बेहद मुश्किल हो गई है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">दिल्ली के खिलाफ मिली हार से मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा काफी निराश हैं. मैच के बाद उन्होंने बल्लेबाज़ों को जमकर लताड़ लगाई. साथ ही खुद को भी इस हार के लिए दोषी ठहराया. रोहित ने कहा कि अगर बल्लेबाज स्कोर बोर्ड पर रन नहीं बनाएंगे तो टीम के लिए जीत दर्ज करना मुश्किल होगा.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">रोहित ने मैच के बाद कहा, "अगर आपके बल्लेबाज रन नहीं बना पायेंगे, तो मैच जीतना मुश्किल होगा. इस विफलता को मैं भी व्यक्तिगत रूप से स्वीकार करता हूं. हम बीच के ओवरों में रन नहीं बना पा रहे हैं. यह बहुत निराशाजनक है. हम अपनी क्षमता के अनुसार नहीं खेल रहे हैं. उम्मीद है कि अगले दो मैचों में हम वैसे ही खेलेंगे जिसके लिए हमें जाना जाता है."</p>
<p style="text-align: justify;">रोहित ने आगे कहा कि उन्हें पता था कि शारजाह &nbsp;में परिस्थितियां मुश्किल होंगी, इसीलिए टीम ने अपनी ओर से सर्वोत्तम तरीके से तैयारी की थी. उन्होंने कहा, "हमने यहां (शारजाह) बहुत सारे मैच देखें, और यह खेलने और अधिक रन बनाने के लिए सबसे आसान स्थान नहीं है. हम अच्छी तरह से तैयार थे और हमें पता था कि हमें क्या करना है. मुझे लगा कि हमने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की. हम जानते थे कि इस पिच पर 170-180 रन नहीं बनेंगे, लेकिन हमें पता था कि यहां 140 रन बनाये जा सकते हैं. हम साझेदारी करने में विफल रहे."</p>
<p style="text-align: justify;">मुंबई की 12 मैचों में यह पांचवीं हार है. वो प्वाइंट टेबल में फिलहाल 10 अंको के साथ छठे नंबर पर है. हालांकि, चौथे और पांचवें नंबर पर मौजूद कोलकाता नाइट राइडर्स और पंजाब किंग्स के भी 10-10 प्वाइंट हैं, लेकिन उनका नेट रन रेट मुंबई से बेहतर है. मुंबई को अब प्लेऑफ में पहुंचने के लिए कोलकाता और पंजाब के नतीजो पर निर्भर रहना होगा. साथ ही अपने बचे दोनों मुकाबले जीतने होंगे.</p>

Source link