Health news Why we should not spend more than 10 minute on the toilet doctor clarified lak

18

Spend more than 10 minutes on toilet may cause of piles: ऐसे लोगों की कमी नहीं हैं, जो टॉयलेट में ज्यादा देर तक समय बिताते हैं. अधिकांश लोग टॉयलेट में जाकर या तो अखबार पढ़ते हैं या मोबाइल देखते हैं या फिर कोई बिजनेस का काम करने लगते हैं. अगर आप भी इस श्रेणी में आते हैं, तो सतर्क हो जाएं क्योंकि यह आदत आपके लिए नुकसानदेह साबित हो सकती है. ब्रिटेन में एनएचएस सर्जन डॉ करन राजन (Dr Karan Rajan)आगाह करते हुए बताते हैं कि टॉयलेट में 10 मिनट से ज्यादा समय तक बिताने से पाइल्स (piles) या बवासीर की समस्या हो सकती है.डॉ राजन ने बताया कि टॉयलेट में 10 मिनट से ज्यादा देर तक समय बिताने से हेमोरॉयड्स (haemorrhoids) हो सकता है. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर इस बारे में विस्तार से बताया है.

इसे भी पढ़ेंः डिमेंशिया से बचना है तो शुरू से ही सूजनरोधी फलों का सेवन करें -नई स्टडी

अनावश्यक नसों पर दबाव से होता है पाइल्स

डॉ करन राजन इंपीरियल कॉलेज लंदन (Imperial College London) में क्लीनिकल प्रोफेसर हैं. डॉ राजन रेग्यूलर मेडिकल एडवाइस को सोशल मीडिया पर शेयर करते रहते हैं. उन्होंने ताजा वीडियों में पाइल्स से बचने के लिए टॉयलेट सीट पर बैठने का सही तरीका बताया है. इस वीडियो को उन्होंने यूट्यूब पर शेयर किया है. वीडियो शेयर होते ही यह वायरल हो गया है. वीडियो में डॉ राजन ने टॉयलेट से संबंधित तीन महत्वपूर्ण सुझाव दिए हैं. वीडियो में डॉ राजन ने अपने फॉलोअर्स से कहा है कि टॉयलेट सीट पर ज्यादा देर तक न बैठें. कोशिश करें कि टॉयलेट में 10 मिनट से ज्यादा देर तक न बैठना पड़े. उन्होंने कहा कि गुरुत्वाकर्षण (Gravity) आपका दोस्त नहीं हो सकता है. यह हमेशा चीजों को अपनी ओर खींचता है. इसलिए जब आप टॉयलेट शीट पर बैठते हैं, तो खून का बहाव गुरुत्वाकर्षण की दिशा में नीचे की ओर होता है जिससे नसों पर दबाव पड़ता है और हैमरेज यानी पाइल्स या बवासीर होने का जोखिम रहता है.

इसे भी पढ़ेंः सर्दी में हाथ-पैर अक्सर ठंडे रहते हैं, तो जान लीजिए इसे दूर करने के उपाय

तनाव लेने से ब्लड वेसल्स में सूजन आ सकती है

डॉ करन राजन ने बताया कि आप अगर ज्यादा देर तक टॉयलेट सीट पर बैठे रहेंगे, तो खून का बहाव नीचे की ओर ज्यादा होने लगेगा. इससे मलाशय की नसों (rectal veins) पर अनावश्यक दबाव बढ़ेगा, जिससे हैमरेज यानी पाइल्स या बवासीर का जोखिम पैदा होगा. इसलिए कोशिश करें कि टॉयलेट में 10 मिनट से ज्यादा समय न बिताएं. उनकी दूसरी सलाह यह है कि जब भी टॉयलेट जाएं, तनाव न लें. उन्होंने कहा जब आप तनाव में रहकर टॉयलेट सीट पर बैठते हैं, तब पीछे की ओर दबाव ज्यादा पड़ता है जिससे ब्लड वेसल्स में सूजन आ सकती है. इससे पाइल्स या बवासीर का जोखिम बना रहता है. डॉ करन ने तीसरा और महत्वपूर्ण सुझाव देते हुए कहा कि पाइल्स से बचने के लिए रोजाना 2 से 30 ग्राम तक फाइबर का सेवन करें.

Tags: Health, Lifestyle, Toilet



Source link