स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जिले के पैथालाजी व डायग्नोस्टिक सेंटर का किया औचक निरीक्षण

26

भास्कर न्यूज

लखनऊ।जीका वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर जनपद के शहरी एवं ग्रामीण सीएचसी केन्द्रों पर मरीजों के लिए नि:शुल्क जांच की सुविधा प्रदान किये जाने के लिए मुख्य चिकित्साधिकारी व समस्त चिकित्सकीय टीम के साथ पैथालाजी व डाग्नोस्टिक सेंटर का निरीक्षण किया तथा जांच में

ओवर चार्जिगं किये जाने को लेकर दिशा निर्देश दिये । डा.एपी सिंह,उप मुख्य चिकित्साधिकारी नोडल अधिकारी चिकित्सा प्रतिष्ठान पंजीकरण एवं योगेश रघुवंशी,जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी के द्वारा मंगलवार को जनपद के 10 निजी पैथालाजी डायग्नोस्टिक सेन्टर में डेंगू जॉच

की ओवरचार्जिग के सम्बन्ध में औचक निरीक्षण किया गया। सभी पैथालाजी,डायग्नोस्टिक सेन्टर मे डेंगू जॉच के लिए निर्धारित दरों के अन्तर्गत ही चार्ज लिया जा रहा था।सीएमओ ने अवगत कराया गया कि पैथालाजी,डायग्नोस्टिक सेन्टर में डेंगू जॉच की ओवरचार्जिग के सम्बबंध में

निरीक्षण की कार्रवाई भी निरन्तर चलती रहेगी।बताया कि पूर्व में पाये गये 3 जीका वायरस रोगियों के क्षेत्रान्तर्गत नगर सीएचसी रेडक्रास की टीम द्वारा सफदलबाग क्षेत्र में कुल 41 टीमों द्वारा 1182 घरों में 5317 व्यक्तियों का सर्वेक्षण किया गया तथा 13 व्यक्तियों व्यक्तियों के सैम्पल

एकत्रित किये गये। नगर सीएचसी एनके रोड की टीम द्वारा फूलबाग क्षेत्र में कुल 40 टीमों के माध्यम से द्वारा 1064 घरों में 5073 व्यक्तियों का सर्वेक्षण किया गया तथा 22 व्यक्तियों व्यक्तियों के सैम्पल एकत्रित किये गये तथा नगरीय सीएचसी चन्दरनगर,आलमबाग,की टीम द्वारा सम्भल

खेडा क्षेत्र में कुल 19 टीमों के माध्यम से द्वारा 549 घरों में 2745 व्यक्तियों का सर्वेक्षण किया गया।सभी सैम्पल केजीएमयू में जॉच के लिए भेजे गये। इसके अतिरिक्त क्षेत्र में सोर्स रिडक्शन के अन्तर्गत नगर मलेरिया इकाई की टीम द्वारा एण्टी लार्वा का छिडकाव तथा नगर निगम की टीम

द्वारा फांगिग का कार्य कराया गया।सम्बन्धित रोगी के घर के आस-पास के घरों का भी निरीक्षण किया गया तथा लक्षणयुक्त मरीजों को औषधियां वितरित की गयी।सोमवार को उपरोक्त केसो के करीबी एवं सम्पर्क में आये 46 व्यक्तियों के सैम्पल लिये गये थे,उन सभी की रिपोर्ट निगेटिव आयी

है।जनपद में डेंगू रोग के प्रभावी नियन्त्रण के लिए सीएमओ के निर्देशानुसार नगर मलेरिया इकाई एवं जिला मलेरिया अधिकारी की टीम द्वारा राजाजीपुरम, हुसैनाबाद,रफी अहमद किदवई, इस्माइलगंज,शंकरपुरवा, फैजुल्लागंज, शारदानगर-द्वितीय वार्ड के आस-पास के क्षेत्रों का भ्रमण

किया गया। भ्रमण के दौरान क्षेत्रीय जनता को घर के आस-पास पानी जमा न होने, पानी से भरे हुए बर्तनों एवं टंिकयों को ढक कर रखने, कुछ समय अन्तराल पर कूलर को खाली करके साफ कपडे से पोछ कर सूखा एवं साफ करने के बाद ही पुनः प्रयोग में लाने, पूरी बाह के कपडे पहनने

, बच्चों को घर से बाहर न निकलने एवं मच्छर रोधी क्रीम लगाने एवं मच्छरदानी में रहने तथा डेंगू एवं मच्छर जनित रोगो से बचाव के​ लिए ‘‘क्या करें, क्या न करें’’ सम्बन्धी स्वास्थ्य शिक्षा प्रदान की गयी।जनपद के

इन्दिरानगर,अलीगंज,टूडियागंज,सिल्वरजुबली,ऐशबाग,चिनहट,मलिहाबाद,सरोजनीनगर, एनके रोड क्षेत्र में 23 डेंगू धनात्मक रोगी पाये गये। कुल 3629 घरों तथा विभिन्न मच्छरजनित स्थितियों का सर्वेक्षण किया गया और कुल 8 घरों में मच्छरजनित स्थितियां पाये जाने पर नोटिस जारी किया गया।