Guru Dosh In Kundali Do These Measures To Remove Guru Dosh

40

Guru Dosh Upay: गुरुवार का दिन भगवान विष्णु जी (Lord Vishnu) को समर्पित है. गुरुवार के दिन भगवान विष्णु और बृहस्पति देव की पूजा-अर्चना की जाती है. मान्यता है कि अगर जातक को गुरू मजबूत होता है, तो उसे किस्मत का साथ मिलता है. वहीं, गुरु के कमजोर रहने पर सम परिस्थितियों में भी नुकसान पहुंचता है. ऐसे में ज्योतिष शास्त्र व्यक्तियों को गुरु मजबूत करने की सलाह देते  हैं. ऐसे में गुरुवार के व्रत और उपाय करने की सलाह दी जाती है. अविवाहित लड़कियों को गुरुवार के व्रत (Thursday Vrat) रखने से लाभ होता है. 

इतना ही नहीं, गुरुवार के दिन जल में हल्दी मिलाकर केले के पौधे में अर्घ्य देना चाहिए. शास्त्रों में कहा गया है कि केले के पौधे में श्री हरि का वास होता है. अगर आपकी कुंडली में भी गुरु कमजोर स्थिति में है, तो गुरु दोष दूर करने के लिए गुरुवार के दिन आसान उपाय जरूर करें. 

गुरुवार के दिन गुरु दोष दूर करने के उपाय (Thursday Guru Dosh Upay)

– मान्यता है कि गुरुवार के दिन नहाने के जल में हल्दी मिलाकर स्नान करें. साथ ही, ‘ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय नम:’ मंत्र का जाप करें. इसके बाद, आमचन कर पीले रंग के वस्त्र धारण करें. इस दिन  माथे पर केसर से तिलक लगाएं. सबसे पहले भगवान भास्कर को जल का अर्घ्य दें. इसके बाद केले के पौधे में हल्दी मिला जल का अर्घ्य दिया जाता है. इसके पश्चात भगवान श्रीहरि की पूजा फल, फूल, धूप, दीप आदि अर्पित करें और पूजा करें. आखिर में भगवान की आरती करें और भगवान के सम्मुख अपनी कामना प्रकट करें. 

– मान्यता है कि गुरुवार के दिन गायत्री मंत्र का जाप करने से गुरु दोष का प्रभाव कम होता है. ज्योतिषियों का कहना है कि गायत्री मंत्र के जाप से गुरु और सूर्य मजबूत होता है. इससे करियर और कारोबार की सभी समस्याओं का निवारण होता है.

– ज्योतिषियों के अनुसार गुरु मजबूत करने के लिए ‘ॐ बृ बृहस्पते नमः’मंत्र का जाप गुरुवार के दिन करें. इस मंत्र के जाप से आर्थिक स्थिति मजबूत होती है. 

– गुरुवार के दिन पीली चीजों का दान करने की सलाह दी जाती है. सामर्थ्य अनुसार जरूरतमंदों को अन्न का दान करें.

– इस दिन साबुन-शैंपू का प्रयोग बिल्कुल न करें. कहते हैं इससे गुरु कमजोर होता है. इस दिन बाल और नाखून काटने की भी मनाही होती है. 

– ज्योतिषियों का कहना है कि गुरु कमजोर होने पर हीरा धारण करना शुभ माना जाता है. इसके लिए एक रत्ती हीरा धारण करें. साथ ही, गुरु मंत्र का जाप करें.

Shani Amavasya 2021: शनि दोष से मुक्ति के लिए शनैश्चरी अमावस्या का दिन उत्तम, इस दिन करें ये 7 उपाय

Know Your Rashi: इन राशियों के लोगों को सुधार पाना होता है मुश्किल, गलतियां करने पर भी नहीं संभलते ये लोग

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

 

Source link