Delhi Police SI arrested for shooting at female friend and killing father-in-law

49

राजधानी दिल्ली में महिला मित्र को कथित तौर पर गोली मार कर घायल करने तथा बाद में रोहतक में ससुर की हत्या करने वाले दिल्ली पुलिस के सब-इंस्पेक्टर संदीप दहिया (35) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि संदीप दहिया को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसे रोहिणी से पकड़ा गया है। उससे पूछताछ चल रही है और उसे संबंधित मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जाएगा। दहिया लाहौरी गेट पुलिस थाने में 21 दिसंबर 2017 से तैनात है।

दिल्ली पुलिस के अनुसार, दहिया ने रविवार को अपनी ​महिला मित्र को कथित रूप से गोली मार दी थी। इससे पहले उत्तर दिल्ली के अलीपुर इलाके में उसकी कार में दोनों का झगड़ा हुआ था।

शहाबाद डेयरी पुलिस थाने में तैनात दिल्ली पुलिस के एक अन्य सब-इंस्पेक्टर जयवीर ने सड़क के किनारे महिला को पड़े हुए देखा, जब वह जीटी करनाल रोड पर स्थित साईं मंदिर को पार कर रहे थे। जयवीर, महिला को पास के अस्पताल में ले गए।

दिल्ली पुलिस के SI ने पहले महिला मित्र को मारी गोली,फिर ससुर की ली जान

अस्पताल जाते समय महिला ने इस बात का खुलासा किया कि उसे दहिया ने गोली मारी है जो फिलहाल लाहौरी गेट पुलिस थाने में तैनात है। महिला और दहिया के बीच पिछले एक साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। इस घटना के बाद वह वहां से भाग गया और कथित रूप से अपने 60 साल के ससुर की हरियाणा के रोहतक में स्थित उनके घर के बाहर सोमवार की सुबह गोली मार कर हत्या कर दी।

सब-इंस्पेक्टर की पत्नी ने रोहतक जिला पुलिस को बताया कि ​वैवाहिक संबंधों में तनाव की वजह से वह पिछले कुछ समय से संदीप से अलग रह रही है। पत्नी ने आरोप लगाया कि उसके पति ने पहले धमकी दी थी कि वह उसके पिता की हत्या कर देगा। रोहतक पुलिस ने सोमवार को कहा कि मरने वाले व्यक्ति की पहचान रणबीर के रूप में की गई है। पुलिस ने बताया कि जिस समय उन्हे गोली मारी गई उस वक्त वह अपने घर के बाहर सफाई कर रहे थे।

गली में लगे एक सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में अपराध के बाद मौके से दिल्ली में नंबर की एक एसयूवी कार जाती हुई दिख रही है। रणबीर को कथित रूप से सिर में गोली लगी और उसके कुछ ही मिनट बाद उनकी मौत हो गई। उनके परिवार के सदस्य तुरंत घर के बाहर आ गए और उन्हें मृत अवस्था में देखा। 

संदीप दहिया दिल्ली पुलिस में 2006 में कॉन्स्टेबल के तौर पर भर्ती हुआ था और विभागीय परीक्षा पास करने के बाद 2010 में वह सब-इंस्पेक्टर बन गया था। वह शालीमार बाग पुलिस कॉलोनी में रहता था। वह दो दिन से मेडिकल लीव पर था और शुक्रवार को उसने ड्यूटी की थी। चूंकि वह पुलिस विभाग का अधिकारी था इसलिए उसे दस राउंड के साथ नौ एमएम की पिस्तौल आवंटित की गई थी।  

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here