Delhi : Around 25 inmates of Mandoli Jail number 11 caused injuries to themselves

18

रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को गैंगस्टर जितेंद्र मान गोगी की हत्या के बाद बढ़ती गैंगवार की आशंकाओं के बीच दिल्ली की मंडोली जेल में सोमवार रात करीब 25 कैदियों ने खुद को घायल कर लिया। ये घटना सोमवार शाम की है।

जानकारी के अनुसार, मंडोली जेल नंबर 11 के करीब 25 कैदियों ने खुद को घायल कर लिया। इनमें से एक कैदी को इलाज के अस्पताल भेजा गया और उसके बाद उसे वापस जेल में शिफ्ट कर दिया गया।

बताया जा रहा है कि कैदियों के बीच बने गुटों को गैंगस्टरों से दूर रखने के लिए सुरक्षा कारणों की वजह से सेल के अंदर ही रहने के लिए कहा गया था, लेकिन कैदी इससे गुस्सा हो गए और अपने सिर दीवारों पर मारकर घायल कर लिए। कुछ ने तेज धारदार हथियार से खुद को घायल कर लिया, जिसके बाद बड़ी मुश्किल से उन्हें छुड़ाया गया।

एक जेल अधिकारी ने बताया कि मंडोली जेल नंबर 11 के करीब 25 कैदियों ने खुद को घायल कर लिया। दो कैदी बिना वजह वार्ड से बाहर जाना चाहते थे। अनुमति नहीं मिलने पर उन्होंने खुद को चोट पहुंचाई और कुछ अन्य लोगों को भी खुद को चोट पहुंचाने के लिए उकसाया।

वर्चस्व की जंग : टिल्लू और गोगी गैंग की रंजिश में 24 से ज्यादा ने जान गंवाई, कई बेकसूर भी बने शिकार

ज्ञात हो कि गैंगस्टर जितेंद्र मान गोगी की हत्या के मद्देनजर जेल अधिकारियों ने गैंगवार की आशंका जताई है, इसलिए तिहाड़ जेल, मंडोली जेल और रोहिणी जेल समेत दिल्ली की सभी जेलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। अधिकारियों ने कहा था कि गोगी तिहाड़ जेल में बंद था और उसका प्रतिद्वंद्वी टिल्लू ताजपुरिया मंडोली जेल में है, इसलिए इन जेलों को विशेष अलर्ट पर रखा गया है। अधिकारियों ने आगे कहा कि दोनों गिरोहों के कई बदमाश और शार्प शूटर भी रोहिणी जेल में बंद हैं। 



Source link