Bjp nitin agarwal won up deputy speaker election 13 mla cross voted in favor of sp nodelsp

24

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा उपाध्यक्ष चुनाव (UP Assembly Deputy Speaker Election) में बीजेपी की रणनीति भले ही सफल रही हो, लेकिन सेंधमारी में सपा की सियासी कसावट भी कामयाब रही है. इस चुनाव में बीजेपी के नितिन अग्रवाल (Nitin Agarwal) ने उपाध्यक्ष पद पर जीत दर्ज की है. उपाध्यक्ष पद के लिए कुछ 368 मत डाले गए थे, जिसमें चार मत अवैध घोषित होने के साथ सपा के नरेंद्र ‌सिंह वर्मा को 60 मत मिले. बीजेपी के नितिन अग्रवाल ने 304 मत हासिल किए. सपा के पास कुल 47 ही विधायक थे, लेकिन उसे 60 वोट हासिल हुए हैं. 13 विधायकों ने सपा के पक्ष में क्रॉस वोटिंग कर दी.

उत्तर प्रदेश विधानसभा उपाध्यक्ष चुनाव को लेकर खासी सियासी गहमा गहमी रही. उपाध्यक्ष जिताने में बीजेपी की रणनीति भी सफल रही, लेकिन सपा भी सेंधमारी करने में कामयाब दिखी है. इस चुनाव में क्रॉस वोटिंग का लाभ सीधा सपा को मिला है. 13 विधायकों ने सपा के पक्ष में क्रॉस वोटिंग की है. समाजवादी पार्टी के विधायकों की कुल संख्या 49 है. 49 में से 1 विधायक (शिवपाल सिंह यादव) और 1 (नितिन अग्रवाल) संख्या बल में शामिल नहीं हैं. सपा के कुल विधायकों की सदन में संख्या 47 थी, लेकिन समाजवादी पार्टी को कुल 60 वोट मिले हैं. 13 विधायकों ने सपा के पद्वा में क्रॉस वोटिंग की है.

जिन विधायकों ने वोटिंग की है उनमें सपा के 47 वोट हैं. इसके साथ बसपा के 8 बागी विधायकों ने सपा को वोट कर दिया. माना जा रहा है कि अपना दल के आर के वर्मा का 1 वोट, बीजेपी के सीतापुर के विधायक राकेश राठौर का वोट भी सपा में गया है. ऐसे में ये कुल 57 वोट हो रहे हैं. ऐसे में जाहिर है 3 और वोटों में सपा ने सेंधमारी की है.

शिवपाल और राजभर रहे नदारद

शिवपाल सिंह यादव और ओमप्रकाश राजभर वोटिंग करने सदन में नहीं आए. ओमप्रकाश राजभर की पार्टी के तीन विधायकों ने ही अपना वोट कास्ट किया है.

14 साल बाद हुआ है यूपी विधानसभा उपाध्यक्ष का चुनाव

उत्तर प्रदेश विधानसभा उपाध्यक्ष का चुनाव 14 सालों बाद हुआ है. इससे पहले बीजेपी के राजेश अग्रवाल को इस पद के लिए जुलाई 2004 में निर्विरोध चुना गया था और उनका कार्यकाल मई 2007 तक था. इसके बाद, विधानसभा उपाध्यक्ष का चुनाव नहीं हुआ था. उल्लेखनीय है कि विधानसभा में वर्तमान समय में बीजेपी के 304, समाजवादी पार्टी के 49, बहुजन समाज पार्टी के के 16, अपना दल के नौ, कांग्रेस के सात, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के चार, निर्दलीय तीन, असंबद्ध सदस्य दो और राष्ट्रीय लोकदल तथा निषाद पार्टी के एक-एक विधायक हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link