BJP मंत्री चेतन चौहान का हापुड़ के बृजघाट में हुआ अंतिम संस्कार, बेटे ने दी मुखाग्नि | lucknow – News in Hindi

50

BJP मंत्री चेतन चौहान का हापुड़ के बृजघाट में हुआ अंतिम संस्कार

अमरोहा के नौगांवा सादात विधानसभा के विधायक चेतन चौहान (Minister Chetan Chauhan) दो बार भाजपा के सांसद (MP) भी रहे थे. इससे पहले उन्होंने टीम इंडिया (Team India) के लिए 1969 से 1978 के बीच 40 टेस्ट मैच खेले थे.

हापुड़. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) में कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान (Minister Chetan Chauhan) के निधन के बाद सोमवार को हापुड़ के गढ़मुक्तेश्वर बृजघाट में उनका अंतिम संस्कार किया गया. चेतन चौहान के बेटे विनायक ने अपने पिता की चिता को मुखाग्नि दी. इस दौरान चेतन चौहान के परिवार के सदस्य भी अंतिम संस्कार में शामिल हुए. बृजघाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान का अंतिम संस्कार किया गया. अपने लोकप्रिय नेता को देखने के लिए अमरोहा जनपद के अलावा हापुड़ जनपद से बीजेपी के नेता और कार्यकर्ता भी पहुंचे.

चेतन चौहान का पार्थिव शरीर बृजघाट में पहुंचने के बाद बीजेपी नेता और कार्यकर्ताओं ने उनको श्रद्धांजलि दी. जिसके बाद गंगा किनारे उनका अंतिम संस्कार किया गया. अंतिम संस्कार में कोविड-19 के नियमों का भी पालन हुआ. जिसमें पीपीई किट पहने कोविड-19 टीम ने अंतिम संस्कार की प्रक्रिया को पूरा किया गया. अपने लोकप्रिय नेता को खोने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं में शोक की लहर दिखी. कोरोना वायरस से संक्रमित उत्तर प्रदेश के होमगार्ड मंत्री चेतन चौहान को 11 जुलाई को कोरोना संक्रमण के कारण भर्ती कराया गया था. क्रिकेट में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान के पास सरकार में सैनिक कल्याण, होमगार्ड, पीआरडी और नागरिक सुरक्षा मंत्रालय था.

ये भी पढे़ं- UP: राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए BJP प्रत्याशी जयप्रकाश निषाद

बता दें कि अमरोहा से चेतन चौहान दो बार भाजपा के सांसद भी रहे हैं. चेतन चौहान भारतीय जनता पार्टी की राजनीति में लंबे समय से सक्रिय भूमिका निभा रहे थे. चेतन चौहान भारतीय जनता पार्टी से लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं. 1991 और 1998 के चुनाव में वह भाजपा के टिकट पर अमरोहा से सांसद बने थे. चेतन चौहान अभी अमरोहा जिले की नौगांवा सादात विधानसभा के विधायक थे. उन्होंने टीम इंडिया के लिए 1969 से 1978 के बीच 40 टेस्ट खेले थे. बहरहाल, कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से यह यूपी कैबिनेट के दूसरे मंत्री की मौत है. इससे पहले कमला रानी वरुण की कोविड-19 की वजह से मौत हो चुकी है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here