BJP के खिलाफ BKU की पंचायत: नरेश टिकैत ने FIR के विरोध में दिया ये धमकी भरा बयान

21

मुजफ्फरनगर. उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनाव के संग्राम में कृषि बिल के मुद्दे को भारतीय किसान यूनियन ने ख़ासकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बीजेपी के सामने एक बड़ी चुनौती के रूप में खड़ा कर दिया है. जिसके चलते 3 दिन पूर्व बीकेयू के गढ़ सिसौली में बीजेपी विधायक उमेश मलिक की गाड़ी पर बीकेयू कार्यकर्ताओं और किसानों ने हमला बोल दिया था. इसके बाद बीजेपी के द्वारा भौराकलां थाने में 9 नामज़द और कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था. इस मामले को लेकर अब बीकेयू और बीजेपी आमने सामने है.

जानकारी के मुताबिक मंगलवार को सिसौली गांव में हर महीने की तरह एक मासिक पंचायत का आयोजन किया गया था. जिसमें जनपद के किसानों और बीकेयू कार्यकर्ताओं ने बड़ी संख्या में हिस्सा लिया था. इस पंचायत में 5 सितम्बर को मुज़फ्फरनगर में होने वाली महापंचायत की तैयारी के लिए रणनीति बनाई गई. वहीं बीजेपी विधायक के हमले के मामले में दर्ज हुई रिपोर्ट पर भी खूब भाषणबाज़ी हुई. इस मामले को लेकर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने मंच से बोलते हुए कहा, “सलाह नहीं आदेश देते हैं कि संजीव बालियान,  बालियान होने के नाते या तो वह इस मामले को निपटा लें वरना अगर अगर मुंह से एक जुबान भी निकालने की कोशिश की तो शहर में पैर नहीं रख पाओगे.”

नरेश टिकैत ने कहा कि ‘आज हम सब कुछ हैं, जो चाहे वो कर देंगे. इसलिए जिसने रिपोर्ट करी उसे इज्जत से बैठा लो. नहीं तो इस मामले में ये गिरफ़्तारी हो नहीं सकती, चाहे जो कर लो.’

इस पंचायत में हिस्सा लेने पहुंचे मुस्लिम किसान नेता गुलाम मोहम्मद जौला के मंच पर आते ही अल्हा हु अकबर और हर हर महादेव के नारे भी जमकर लगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link