Bhojpuri: देश क पहिला दुतल्ला पुल, पढ़ी पूरी कहानी

97

अंगरेज भारत के लूटय आयल रहलन. लूटय बदे सड़क, रेल अउर पुल क जरूरत रहल, ताकि लूट क समान असानी से ढोवल जाइ सकय. कहीं भी असानी से आवल जाइ सकय. कलकत्ता से पेशावर तक ग्रांड ट्रंक रोड क निर्माण एही बदे कयल गयल रहल.

Source link