Bezos’s ex-wife Mackenzie spent 43 thousand crores last year. donated | बेजोस की पूर्व पत्नी मेकेंजी ने पिछले साल 43 हजार करोड़ रुपए दान किए; जलवायु परिवर्तन और महिला अधिकार संगठनों की भी मदद की

145

38 मिनट पहलेलेखक: बेलिंड लुस्कॉम्ब

  • कॉपी लिंक

मेकेंजी प्रचार से दूर रहती हैं। उनकी जीवनशैली भी सामान्य है।

  • सोसायटी : भूख, गरीबी दूर करने, जलवायु परिवर्तन और महिला अधिकार संगठनों की मदद

जुलाई 2019 में जब मेकेंजी स्कॉट ने अमेजन के फाउंडर जेफ बेजोस से तलाक लिया तब उनके पास अकूत दौलत थी । वे अमेजन के 4% शेयरों की मालिक बन गई। 50 साल की आयु में उनके पास लगभग 2.78 लाख करोड़ रुपए थे। उसके बाद से अमेजन के शेयरों के मूल्य तेज गति से बढ़े हैं। इसलिए उनकी संपत्ति 4.17 लाख करोड़ रुपए होने का अनुमान है।

वे एक साल में करीब 43 हजार करोड़ रुपए दान कर चुकी हैं। लोगों ने इससे पहले कहीं ज्यादा पैसा दान किया है। लेकिन, कोई फाउंडेशन बनाए बिना कम समय में इतनी अधिक धनराशि दान नहीं की गई है। मेकेंजी प्रचार से दूर रहती हैं। उनकी जीवनशैली भी सामान्य है।

स्कॉट तलाक से पहले भी अमीर थीं लेकिन चूंकि संपत्ति केवल उनकी नहीं थी इसलिए वे ज्यादा दान नहीं करती थीं। उनकी जीवनशैली भी सामान्य थी। वे होंडा मिनीवैन स्वयं चलाकर अपने बच्चों को स्कूल और बेजोस को ऑफिस छोड़ती थीं। उनकी पार्टियों में भारी-भरकम खर्च नहीं होता था।

अमेजन के शेयरों का हस्तांतरण होने से पहले ही स्कॉट ने गिविंग प्लेज पहल पर दस्तखत कर अपनी संपत्ति का बहुत बड़ा हिस्सा दान करने का वचन दे दिया था। इस शपथ पत्र पर वारेन बफेट, बिल गेट्स, मेलिंडा गेट्स और 200 अन्य लोगों ने हस्ताक्षर किए थे।

परोपकार क्षेत्र के कुछ विशेषज्ञों ने व्यक्तिगत तौर पर किसी जवाबदेही के बिना बड़े फाउंडेशन के स्तर पर काम करने के विवेक और उपयोगिता पर सवाल उठाए हैं। हालांकि अंदरूनी रूप से उनके तरीकों को रोमांचक माना जाता है। यदि सभी दानदाता उनके समान काम करने लगें तो दान देना अधिक बेहतर लेकिन कम पारदर्शी हो जाएगा। उसमें विविधता भी नहीं रहेगी।

मेकेंजी स्कॉट ने महिलाओं, समलैंगिकों के अधिकारों, गरीबी दूर करने,जलवायु परिवर्तन, विकलांगों के काम करने वाले संगठनों की मदद की है। वे रंगभेद के भी खिलाफ हैं। मेकेंजी स्कॉट सोशल मीडया पर अपने दान का जिक्र करती हैं। उन्होंने जुलाई 2020 में 12 हजार करोड़ रुपए और उसी वर्ष दिसंबर में 30757 करोड़ रुपए के दान की जानकारी दो पोस्ट में दी थी। वे बहुत कम इंटरव्यू देती हैं।-साथ में बारबरा मेडक्स

महामारी में मदद

चैरिटेबल सेक्टर के खर्च पर नजर रखने वाले संगठन कैनडिड के अनुसार पिछले साल दुनियाभर में कोविड-19 के संबंध में दिए गए दान का 20% स्कॉट ने दिया है। व्यक्तिगत रुप से दिए दान का यह 75% है।

खबरें और भी हैं…

Source link