anil deshmukh arrest news: Anil Deshmukh News: सोमैया का दावा, बेदाग नहीं अनिल देशमुख, उद्धव ठाकरे समेत टीम इलेवन होगी क्लीन बोल्ड – bjp leader kirit somaiya said uddhav thackeray and his team eleven will go behind bars after diwali

30

हाइलाइट्स

  • दिवाली बाद उद्धव ठाकरे समेत उनकी टीम इलेवन को बोल्ड करेंगे सोमैया
  • किरीट सोमैया ने लगाया ठाकरे परिवार पर गंभीर आरोप
  • सोमैया ने कहा रश्मि ठाकरे के 19 बंगले बेनामी हैं
  • सोमैया बोले कि देशमुख के बाद अगला नंबर अनिल परब का है

मुंबई
महाराष्ट्र सरकार के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख को फिलहाल प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी से कुछ घंटे पहले उनके द्वारा जारी किए गए बयान में उन्होंने कहा था कि 70 साल के जीवन काल में जितना भी समय मैंने राजनीति में दिया है, वह बेदाग रहा है। उन्होंने कहा कि मैंने सभी जांच एजेंसियों को पूरा सहयोग दिया था। यह बात देशमुख पहले भी कह चुके हैं। अनिल देशमुख को फ़िलहाल अदालत ने 6 नवंबर तक ईडी की हिरासत में भेज दिया है।

देशमुख पर आरोप
प्रवर्तन निदेशालय फिलहाल अनिल देशमुख से मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों के तहत पूछताछ कर रहा है। एक तरफ जहां अनिल देशमुख के खिलाफ 100 करोड़ रुपए की वसूली का भी मामला दर्ज है। इसके अलावा देशमुख पर तकरीबन साढ़े चार करोड़ रुपए, फर्जी कंपनियों के जरिए अपने ट्रस्ट में जमा करवाने का आरोप है। इन आरोपों के तह तक जाने के लिए ईडी फिलहाल अनिल देशमुख से पूछताछ कर रही है। इन्हीं आरोपों के तहत ईडी ने अनिल देशमुख के घर और दफ्तर पर छापेमारी भी की थी।

उगाही का आरोप
अनिल देशमुख के ऊपर मुंबई के तत्कालीन पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर देशमुख के खिलाफ सचिन वझे के जरिए 100 करोड़ रुपए की हफ्ता वसूली का गंभीर आरोप लगाया था। हालांकि इस मामले में अनिल देशमुख ने खुद को बेदाग बताते हुए कहा था की परमबीर सिंह को कमिश्नर की पोस्ट से हटाने के बाद में उन्होंने यह आरोप दुर्भावना से ग्रसित होकर लगाया है। आपको बता दें कि बॉम्बे हाई कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई ने भी अनिल देशमुख के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी।

ठाकरे सरकार के मंत्रियों पर लग चुके हैं गंभीर आरोप
अनिल देशमुख महाविकास अघाड़ी सरकार के कोई पहले मंत्री नहीं हैं, जिन पर गंभीर आरोप लगे हैं। इसके पहले ठाकरे सरकार में परिवहन मंत्री और उद्धव ठाकरे के बेहद करीबी माने जाने वाले अनिल परब पर भी अवैध रूप से जगह कब्जा करने और सीआरजेड के तहत आने वाली जमीन पर बंगला बनाने का आरोप लग चुका है।

अनिल परब की बेनामी संपत्ति
परिवहन विभाग के एक अधिकारी और अनिल परब के करीबी बजरंग खरमाटे की भी ईडी जांच कर रही है। बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने आरोप लगाया है कि अनिल परब की जितनी भी बेनामी संपत्ति हैं वह बजरंग खर माटे के नाम पर है। सुमैया ने यह भी दावा किया है कि अनिल देशमुख के बाद अगला नंबर अनिल परब का होगा।

70 हज़ार तनख्वाह और 750 करोड़ की प्रॉपर्टी
किरीट सोमैया ने यह दावा किया है कि बजरंग खरमाटे की तनख्वाह महज 70 हज़ार है जबकि उनकी संपत्ति 750 करोड़ रुपए की है। ऐसे में यह सवाल खड़ा होता है कि आखिर उनके पास इतनी संपत्ति कैसे आई? सोने-चांदी की दुकान, प्रथमेश पाइप फैक्ट्री यह खरमाटे की है। प्रथमेश उनके बेटे का नाम है। उसके नाम पर कई उद्योग-धंधे हैं। अनिल परब के सचिव की इतनी संपत्ति कैसे हुई? जब सचिव की इतनी तनख्वाह है तो मंत्री महोदय की कितनी प्रॉपर्टी होगी?

पढ़ें: क्या ईमानदार अफसर दस करोड़ के कपडे पहनता है

उद्धव ठाकरे समेत 12 लोगों के घोटाले आएंगे सामने: किरीट
बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने यह दावा किया है कि आने वाले दिनों में वह उद्धव ठाकरे समेत उनकी सरकार के 12 नेताओं के घोटालों का पर्दाफाश करेंगे। उन्होंने कहा ठाकरे सरकार की लूट और बेनामी कारोबार में एक नाम खुद उद्धव ठाकरे के भी है। सोमैया ने कहा कि उद्धव ठाकरे की टीम इलेवन और खुद उद्धव ठाकरे, कुल मिलाकर 12 लोगों का पर्दाफाश करने तक मैं शांत नहीं बैठूंगा।

हम ठाकरे सरकार की धमकियों से डरने वाले नहीं हैं। अगर हमने घोटाले किए होंगे तो उनकी भी जांच की जाए। अनिल परब मामले की जांच शुरू है। भावना गवली समेत जितेंद्र आव्हाड को भी बैग पैक करने की सलाह किरीट सोमैया ने दी है।

Kirit Somaiya and Uddhav Thackeray

किरीट सोमैया ने लगाया ठाकरे परिवार पर गंभीर आरोप

Source link