होम्योपैथी से सिर्फ सात दिन में जड़ से सामाप्त होगा मधुमेह— डा0प्रदीप गुप्ता

24

मधुमेह यानि कि शुगर। अभी तक यही कहा जा रहा है कि मधुमेह एक लाइलाज बीमारी है। एक बार शुगर होने के बाद ताउम्र दवा खाने को ही नियति मान लिया जाता है। एक बार शुगर होने के बाद व्यक्ति को एक के बाद एक कई अन्य जैसे कोलेस्ट्राल,ब्लडप्रेशर आंखों की रोशनी पर फर्क या फिर किड़नी आदि कई तरह की बीमारी होने की संभावना प्रबल हो जाती है।

ऐसे में मधुमेह रोगियों को चिकित्सक भी डराने का काम करते है। जीवनभर दवा खिलाते हैं। इंसुलिन इंजेक्शन भी लगवाते हैं। साथ ही खान-पान पर तमाम तरह के प्रतिबंध लगा देते हैं। तमाम तरह की जांचें करवाते रहते हैं। इसके बाद भी मधुमेह रोग ठीक नहीं होता है।

लेकिन मधुमेह का इलाज होम्योपैथी में संभव है वह भी मात्र एक सप्ताह मे। लेकिन नेमिनाथ होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज, हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेंटर होम्योपैथी से शुगर को जड़ से सामप्त करने का दावा कर रहा है। इसी क्रम में नेमिनाथ होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज,हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेंटर कुबेरपुर, आगरा में 16 नवम्बर, 2021 से मुधमेह रोगियों को भर्ती करके निःशुल्क इलाज किया जाएगा। सिर्फ सात दिन में मधुमेह को खत्म किया जाएगा।

नेमिनाथ होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज के चेयरमैन और जाने-माने होम्योपैथ डॉ. प्रदीप गुप्ता का कहना है कि ऐसा वह पहली बार नही कर रहे हैं, बल्कि अब तक हजारों लोगों को मधुमेह से छुटकारा दिला चुके हैं। हकीकत तो यह है कि मधुमेह कोई बीमारी नहीं है।

यह जीवनशैली का विकार है और कोई इसे बदलना नहीं चाहता है। खान-पान की आदत को बदलने के स्थान पर दवाओं के नाम पर जहरीले रसायन दिए जा रहे हैं जिनका व्यक्ति आदी हो जाता है। मरीज लुटता रहता है। यह कैसा इलाज है कि आजीवन दवा खानी पड़ती है।

डॉ. गुप्ता ने बताया कि मधुमेह रोगी स्वस्थ होना चाहते हैं तो अपनी जीवन शैली बदलें और होम्योपैथी दवा लें। नेमिनाथ हॉस्पिटल में 16 नवम्बर, 2021 से मधुमेह रोगी भर्ती किए जाएंगे। कमरा, दवा, नर्सिंग, डॉक्टर की फीस और भोजन सबकुछ निःशुल्क होगा। मधुमेह रोगी डायबिटीज की जांच कराकर आएं और होम्योपैथिक इलाज के सात दिन बाद जांच कराएं तो वे स्वयं कहेंगे कि स्वस्थ हो गए हैं। इस शिविर के माध्यम से नेमिनाथ हॉस्पिटल अपनी सामाजिक जिम्मेदारी निभा रहा है।

प्रातः 8 बजे से शाम चार बजे तक नेमिनाथ हॉस्पिटल, कुबेरपुर, आगरा के स्वागत पटल पर आकर जानकारी कर सकते हैं। फोन नम्बर 9837257775, 9837247776 पर भी संपर्क किया जा सकता है।
नेमिनाथ हॉस्पिटल में मधुमेह रोगियों का निःशुल्क इलाज 16 से
कमरा, दवा, नर्सिंग, डॉक्टर की फीस, भोजन सबकुछ फ्री होगा
सात दिन के लिए भर्ती करके किया जाएगा होम्योपैथिक उपचार