सुपारी तस्करी : सीबीआई ने मुंबई, नागपुर सहित 19 जगहों पर की छापेमारी : Areca nut smuggling: CBI raids 19 places in Mumbai Nagpur Ahmedabad

30

करोड़ों रुपये के सुपारी तस्करी घोटाले की चल रही जांच में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने मुंबई, नागपुर और अहमदाबाद में 19 स्थानों पर छापेमारी की और आपत्तिजनक दस्तावेज, डिजिटल उपकरण और अन्य लेख जब्त किए.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 30 Jun 2021, 10:58:55 PM

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल)

मुंबई:

करोड़ों रुपये के सुपारी तस्करी घोटाले की चल रही जांच में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने मुंबई, नागपुर और अहमदाबाद में 19 स्थानों पर छापेमारी की और आपत्तिजनक दस्तावेज, डिजिटल उपकरण और अन्य लेख जब्त किए. अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी. इस साल फरवरी में बॉम्बे हाईकोर्ट के नागपुर बेंच के आदेश के अनुसरण में कस्टम हाउस एजेंटों, आयात करने वाली फर्मो के मालिकों/साझेदारों सहित कई निजी व्यक्तियों और अन्य के परिसरों पर छापे मारे गए थे. 
अदालत का यह आदेश डॉक्टर महबूब एम.के. चिंतनवाला ने घटिया, असुरक्षित और अनुपयुक्त सुपारी/सुपारी की तस्करी के एक बड़े घोटाले पर प्रकाश डाला, जिससे सरकार को भारी नुकसान हुआ. 

जांच के अनुसार, सरकारी अधिकारियों की मिलीभगत से बेईमान व्यापारियों ने फर्जी दस्तावेजों, मूल प्रमाणपत्रों, फर्जी या कम मूल्य वाले बिलों और चालानों के आधार पर साफ्टा-सार्क देशों से सामान आयात करने का दावा किया, और जाली सीमा शुल्क निकासी प्रमाणपत्र के कारण सरकार को सालाना लगभग 15,000 करोड़ रुपये कस्टडी ड्यूटी का नुकसान हुआ.

यह भी पढ़ेंःजनवरी-फरवरी के बीच 6 करोड़ वैक्सीन डोज का किया निर्यात: अदार पूनावाला

जून 2016 में, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर तस्करी कर लाए गए घटिया और खतरनाक सुपारी से लदे 23 वैगन नागपुर इतवारी स्टेशन पर पाए गए, लेकिन मामले की ठीक से जांच नहीं की गई.

यह भी पढ़ेंःबच्चे दो ही अच्छे’ की बात पर कट्टरपंथियों को आपत्ती क्यों? दीपक चौरसिया के साथ देखिये #DeshKiBahas

एक साल बाद, राजस्व खुफिया विभाग की जांच ने लगभग 698 टन सुपारी की तस्करी के चार मामलों का खुलासा किया, जो कि विदेशी मूल के होने का संदेह था, भारत-म्यांमार सीमा के माध्यम से तस्करी कर नागपुर और गोंदिया लाया गया था.  सीबीआई ने कहा कि छापेमारी अभी भी जारी है और आगे की जांच जारी है.



संबंधित लेख

First Published : 30 Jun 2021, 10:55:02 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link