साथियों से कहा- दोस्त की हत्या कर रहा हूं, कब्र खोदकर तैयार रखो, ऐसे खुला पूरा मामला

46

शुभम चौरसिया का शव 10 मार्च की सुबह महाराजगंज थाना क्षेत्र के एमी आलापुर गांव में एक कब्र से बरामद किया गया.

अयोध्या में एक हैरान करने वाली वारदात सामने आई. हत्यारों ने कत्ल करने के पहले ही लाश को ठिकाने लगाने का इंतजाम करते हुए कब्र पहले ही खोद ली. एक शख्स ने पत्नी से अवैध संबंधों के शक में अपने ही दोस्त की हत्या कर दी.

कृष्णा शुक्ला.

फैज़ाबाद. फिल्म ‘संगम’ का मशहूर गाना है दोस्त, दोस्त ना रहा, इस गाने की लाइन चरितार्थ होती हुई अयोध्या में देखी गई. अयोध्या में दोस्त ने ही दोस्त की हत्या करने से पहले ही उसकी कब्र खोद दी थी. हत्या में शामिल अपने साथियों से कहा कि मैं अपनी दोस्त की हत्या कर रहा हूं, कब्र खोदकर तैयार रखो. पत्नी से अवैध संबंधों के शक में एक शख्स ने अपने ही दोस्त की गला दबाकर हत्या कर दी. अयोध्या धाम से अपहृत पान मसाला व्यवसायी शुभम चौरसिया की कत्ल की वारदात में शामिल सभी 6 अभियुक्तों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पूरी वारदात में बेहद हैरान करने वाली बात यह है कि हत्यारों ने कत्ल करने के पहले ही लाश को ठिकाने लगाने का इंतजाम करते हुए कब्र पहले ही खुदवा दी थी. हत्या की घटना को बाद में अंजाम दिया गया.

8 मार्च की शाम कोतवाली नगर के फतेहगंज से लापता हुए शुभम चौरसिया का शव 10 मार्च की सुबह महाराजगंज थाना क्षेत्र के एमी आलापुर गांव में एक कब्र से बरामद किया गया. एसपी सिटी विजय पाल सिंह ने बताया कि हत्या अभियुक्त सुशांत पांडे को इस बात का शक हो गया था कि उसकी पत्नी से उसका दोस्त शुभम बातचीत करता है और उसकी आर्थिक मदद भी करता है. इसी बात से नाराज होकर सुशांत ने अपने कुछ रिश्तेदारों के साथ मिलकर शुभम के कत्ल की साजिश रची. 8 मार्च को फोन के जरिये शुभम को देवकाली के पास बुलाया और उसके बाद एक कार में अगवा कर शुभम का कत्ल कर दिया.

पुलिस और परिवार को गुमराह करने के लिए सुशांत, शुभम के लापता होने के बाद परिवार के साथ मिलकर ही उसकी तलाश में जुटा रहा. मोबाइल कॉल डिटेल और सीसीटीवी फुटेज के सहारे पुलिस ने शक के आधार पर जब सुशांत को हिरासत में लिया तब उसने पूरी वारदात को कबूल कर लिया. सुशांत की निशानदेही पर शुभम का शव कब्र से बरामद कर लिया गया. पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त स्विफ्ट डिजायर कार मोटरसाइकिल व मोबाइल बरामद कर लिया है. मृतक अयोध्या कोतवाली के उर्दू बाजार का रहने वाला था.






Source link