सत्या नडेला को माइक्रोसॉफ्ट में बतौर इंजीनियर मिली थी नौकरी, अब बने चेयरमैन | Satya Nadella got a job in Microsoft as an engineer, now becomes chairman

64

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 2014 में 53 साल के सत्या नडेला (Satya Nadella) को माइक्रोसॉफ्ट का CEO नियुक्त किया गया था. नडेला जॉन थॉमसन की जगह लेंगे.

Satya Nadella-Microsoft (Photo Credit: IANS )

highlights

  • 2014 में सत्या नडेला को माइक्रोसॉफ्ट का CEO नियुक्त किया गया था
  • साल 1967 में भारत के हैदराबाद में सत्या नडेला का जन्म हुआ था

नई दिल्ली :

सॉफ्टवेयर बनाने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) ने सत्या नडेला (Satya Nadella) को कंपनी का चेयरमैन नियुक्त किया है. नडेला अभी तक कंपनी के CEO के पद पर काम कर रहे थे. वह पिछले 7 साल से कंपनी के CEO हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सत्या नडेला के कुशल नेतृत्व में कंपनी ने नई ऊंचाईयों को छुआ है जिसका परिणाम यह रहा कि उन्हें कंपनी का चेयरमैन बना दिया गया है. नडेला जॉन थॉम्पसन (John Thompson) की जगह लेंगे. बता दें कि 2014 में थॉमसन को कंपनी का चेयरमैन बनाया गया था.

यह भी पढ़ें: 20 फीसदी तक सस्ते हो गए खाद्य तेल, सरकार ने किया दावा

2014 में बने थे माइक्रोसॉफ्ट के CEO
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 2014 में 53 साल के सत्या नडेला को माइक्रोसॉफ्ट का CEO नियुक्त किया गया था. उनके द्वारा यह पद संभालने के दौरान कंपनी कई तरह की दिक्कतों का सामना कर रही थी. ऐसे खराब समय में नडेला ने कंपनी को परेशानियों से बाहर निकाला और उसे नई बुलंदियों तक पहुंचाया. सत्या नडेला ने क्लाउड कंप्यूटिंग, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और मोबाइल ऐप्लिकेशनंस के ऊपर अपना ध्यान केंद्रित किया. इसके अलावा उन्होंने ऑफिस सॉफ्टवेयर फ्रेंजाइजी में नई जान फूंकने की कोशिश की.

नडेला के कार्यकाल के दौरान कंपनी के शेयर की कीमत 7 गुना से ज्यादा बढ़ी
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सत्या नडेला के कार्यकाल के दौरान कंपनी के शेयर की कीमत 7 गुना से ज्यादा बढ़ गई. माइक्रोसॉफ्ट का बाजार पूंजीकरण 2 लाख करोड़ डॉलर के करीब पहुंच गया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सत्या नडेला माइक्रोसॉफ्ट के तीसरे CEO और माइक्रोसॉफ्ट के इतिहास में तीसरे चेयरमैन भी होंगे. बता दें कि उनके पहले बिल गेट्स और जॉन थॉम्पसन कंपनी के चेयरमैन रह चुके हैं. इसके अलावा सत्या नडेला के पहले माइक्रोसॉफ्ट के CEO स्टीव बाल्मर थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक माइक्रोसॉफ्ट के द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि 72 साल के जॉन थॉम्पसन लीड इंडिपेंडेंट डायरेक्टर के तौर पर काम 
करते रहेंगे.

यह भी पढ़ें: अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने की संभावना से सस्ते हो सकते हैं सोना-चांदी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक साल 1967 में भारत के हैदराबाद में सत्या नडेला का जन्म हुआ था. नडेला के पिता एक प्रशासनिक अधिकारी और मां संस्कृत की लेक्चरर थीं. नडेला की शुरुआती शिक्षा हैदराबाद पब्लिक स्कूल से हुई. उसके बाद उन्होंने 1988 में मनिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की. इंजीनियरिंग की डिग्री लेने के बाद सत्या नडेला कंप्यूटर साइंस में एमएस करने के लिए अमेरिका चले गए. 1996 में सत्या नडेला ने शिकागो के बूथ स्कूल ऑफ बिजनस से MBA भी किया है.



संबंधित लेख

First Published : 17 Jun 2021, 11:04:08 AM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.


Source link