शुल्क अंतिम संस्कारgovernment order free cremation grave yard after corona death in up upns

20

कोरोना से निधन के बाद कब्रिस्तान में होगा नि:शुल्क अंतिम संस्कार (फाइल फोटो)

इस प्रक्रिया में होने वाला व्यय नगरीय निकाय अपने स्रोतों से या फिर राज्य वित्त आयोग से उपलब्ध कराई गई धनराशि (Amount) से होगा.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Infection) से निपटने के लिए हर संभव मदद कर रहे हैं. इसी कड़ी में शनिवार को सीएम योगी ने कोविड-19 प्रबंधन के लिए गठित टीम-9 को अहम दिशा-निर्देश दिए हैं. योगी सरकार कोरोना वायरस संक्रमण से मौत के बाद अब सभी पार्थिव शरीर की अत्येष्टि नि:शुल्क कराएगी. इसका शासनादेश भी जारी कर दिया गया है. उत्तर प्रदेश में कोविड से मृत्यु की दशा में निःशुल्क अंतिम संस्कार होगा, यह आदेश नगर निगम सीमा में लागू होगा. अपर मुख्य सचिव नगर विकास मनोज सिंह ने आदेश जारी करते हुए बताया कि अंतिम संस्कार के लिए श्मशान गृह और कब्रिस्तान में नि:शुल्क अंतिम संस्कार कराया जाएगा. सिंह के मुताबिक अंतिम संस्कार में घर छोड़ने वाला धन नगर निकाय अपने स्वयं के मदों से खर्च करेंगे. उन्होंने बताया कि नगर निगम का मूल कर्तव्य है कि वह अपने-अपने क्षेत्रों में कोविड-19 के नियमों का कड़ाई से अनुपालन करते हुए कोरोना वायरस से मृतक हुए लोगों का निशुल्क अंतिम संस्कार कराएं. इसके साथ ही इस प्रक्रिया में कोविड प्रोटोकॉल का भी पालन करना अनिवार्य है. Bareilly News: युवक ने किया तमंचे पर डिस्को, वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल इस प्रक्रिया में होने वाला व्यय नगरीय निकाय अपने स्रोतों से या फिर राज्य वित्त आयोग से उपलब्ध कराई गई धनराशि से होगा. एक पार्थिव शरीर की अंत्येष्टि में अधिक से अधिक 5 हजार रुपया की धनराशि ही व्यय की जाएगी. बता दें कि उत्तर प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है, आज भी पूरे प्रदेश में 25 हजार से अधिक मामले आए हैं. बीते 24 घंटों में कोरोना के 28,076 मामले सामने आए हैं. वहीं कुल 372 लोगों की मौत हो गई. यूपी में अब तक कुल चार करोड़ 25 लाख 649 टेस्ट हो चुके हैं. बीते 24 घंटे में 241403 टेस्ट हुए हैं. कोविड की शुरुआत से अब तक यूपी में कुल 14 लाख 53 हजार 679 लोग संक्रमित हो चुके हैं.







Source link