वीगन डाइट पर जाने से पहले जान लें ये बातें वरना हो सकती है परेशानी

19
मौजूदा वक्त में वीगनिज्म (Veganism) यानी शाकाहार एक तरह से एक नया चलन होने के साथ ही वक्त की जरूरत भी बन गया है. इसमें केवल आप प्लांट आधारित प्रोडक्ट को ही अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं. यहां तक ​​कि इसमें डेयरी आइटम्स को लेने से भी परहेज किया जाता है. इस तरह की शाकाहारी डाइट (Vegan Diet) लेने में कई फायदे हैं, लेकिन इसे सही तरीके से न लेने पर इसका बुरा असर भी पड़ सकता है. इस डाइट में मीट, अंडे और डेयरी प्रोडक्ट लेने पर पूरी तरह से मनाही होती है तो ऐसे में आपके शरीर में कई पोषक तत्वों की कमी हो सकती है जो केवल पशु-आधारित आहार से संभव है. अगर आप इस डाइट को फॉलो करने का प्लान कर रहे हैं तो उससे पहले आपको कुछ बातें जानना जरूरी है जो इस डाइट के साथ आपका हेल्दी रहना सुनिश्चित करेंगी. यहां हम आपको यही जानकारी दे रहे हैं.

बी 12 सप्लीमेंटः

विटामिन बी 12 प्राकृतिक तौर पर जानवरों के शरीर में पाया जाता है. इसलिए, यदि आप पशु-आधारित खाद्य पदार्थों का सेवन सीमित करते हैं, तो आपके शरीर में इस विटामिन की कमी होने की संभावना रहती है. ऐसे में वीगन डाइट ले रहे लोगों को पूरी तरह से हेल्दी रहने के लिए इस पोषक तत्व को रोज विटामिन बी 12 सप्लीमेंट के तौर पर लेने की सलाह दी जाती है. यह विटामिन आपके नर्व और ब्लड सेल्स को हेल्दी रखता है.

ये भी पढ़ेंःवीगन कपड़े खरीदने से पहले जरूर जान लें ये बातें, कुछ ऐसे फॉलो करें ये फैशनप्रोटीन लेंः

वीगन डाइट लेने से आप मछली, अंडे, मांस को बंद करने जा रहे हैं, एक तरह से आप अपने शरीर में प्रोटीन के एक बड़े हिस्से की कमी करने जा रहे हैं. ऐसे में आपको अपनी डाइट में प्रोटीन से भरपूर पौधों पर आधारित कुछ खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए ताकि वे इस हिस्से की भरपाई कर सकें. प्रोटीन के बेहतरीन शाकाहारी सोर्स सोया, दाल, बीन्स, क्विनोआ, पनीर आदि हैं.

जंक फूड से बना लें पूरी तरह दूरीः

पशु-आधारित खाद्य पदार्थों को सीमित करने का यह मतलब नहीं है कि आप जमकर बहुत सारी ब्रेड और पास्ता खाएं. ये केवल आपकी भूख और आपके वजन को बढ़ाने का काम करेंगे. वजन बढ़ने से आपके चिड़चिड़े होने की संभावना भी होती है. 

ये भी पढ़ेंः वेजिटेरियन हैं लेकिन खाते हैं मीट भी! फ्लेक्सिटेरियंस तो नहीं आप ?

सोया की सीमित मात्रा लेंः 

सोया यह मीट का एक बेहतरीन बढ़िया विकल्प है, लेकिन इसे अधिक खाने से आपकी हेल्थ पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है, इसलिए इसके प्रति सचेत रहें. सोया के सबसे अच्छे स्रोत टोफू, टेम्पेह, सोया दूध और मिसो हैं तो इन्हें अपनी वीगन डाइट में शामिल करें.

वक्त लगेगा वीगन होने मेंः  

आप एक ही रात में पूरी तरह से वीगन नहीं बन सकते हैं. पूरी तरह से शाकाहारी होने और पशु आधारित सभी प्रोडेक्ट्स को छोडने में आपको बहुत वक्त लग सकता है, इसलिए धीरे-धीरे अपने भोजन में अधिक वेज और कम मीट लेना शुरू करें और इस तरह से अपने वीगनिज्म के सफर की तरफ बढ़ें. (Disclaimer:इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)



Source link